CAA पर खिलाफ प्रस्ताव पर मुख्यमंत्री लेंगे फैसला- अशोक चव्हाण

एनपीआर के मुद्दे पर सीडब्ल्यूसी(CWC) )निर्णय लेगी

SHARE

पीडब्ल्यूडी मंत्री अशोक चव्हाण(ashok chavan)  ने गुरुवार को कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ( uddhav thackeray ) पंजाब(punjab) और केरल ( keral) जैसे नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ एक प्रस्ताव लाने का आह्वान करेंगे। अशोक चव्हाण ने कहा की  "हमने मुलाकात की और त्रिकोणीय सत्तारूढ़ गठबंधन में हमारी भूमिका पर चर्चा की। गठबंधन के नेताओं द्वारा किए गए सीएए(CAA) एनआरसी (NRC) और विरोधाभासी बयानों सहित कई मुद्दों पर चर्चा की गई”। उन्होंने कहा कि हमारा विरोध महाराष्ट्र में भी देखा जाएगा। जहां तक एनपीआर का सवाल है, तो कांग्रेस कार्यसमिति द्वारा निर्णय लिया जाएगा


सीएए और एनआरसी पर सीडब्ल्यूसी द्वारा पारित प्रस्ताव का पालन करने का फैसला किया है और इसका विरोध करेंगे। सीएए के खिलाफ प्रस्ताव लाने वाली महाराष्ट्र सरकार के बारे मेंहमारा रुख स्पष्ट है। लेकिन यह गठबंधन सरकार है और सीएम को इस बारे में फैसला लेना होगा।  


सरकार के लिए समन्वय समिति की स्थापना

महाराष्ट्र में उद्धव सरकार को बेहतर रूप से चलाने के लिए समन्वय समिति बनाने का फैसला लिया गया। इस कमेटी में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के 2-2 मंत्री शामिल होंगे। ये सभी मंत्री एक दूसरे के साथ बेहतर समन्वय स्थापित करने में मदद करेंगे। कांग्रेस की ओर से इस समन्वय समिति में बालासाहेब थोरात और अशोक चव्हाण होंगे। एनसीपी से उपमुख्यमंत्री अजीत पवार और जल संसाधन मंत्री जयंत पाटिल शामिल होगें।  इस समन्वय समिति का मुख्य कार्य सरकार में तीनों पार्टियों के साथ समन्वय बैठाना है। 

यह भी पढ़ेभीमा कोरेगांव की हो SIT जांच – शरद पवार

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें