World Music Day special - जानिए तबला बनाने की कला, महेंद्र चौहान की जुबानी...!

दादर में रहने वाले महेंद्र चौहान पिछले 30 साल से तबला बना रहे हैं।

SHARE

21 जून को #WorldMusicDay मनाया जाता है। इस अवसर पर मुंबई लाइव अपने रीडर्स के लिए विश्व के सबसे पुराने वाद्य यंत्र में से एक तबला के बारे में कुछ विशेष जानकारी प्रस्तुत कर रहा है। आधुनिक तबला मुख्य रूप से दो भागों में बंटा होता है, दायां और बायां। तबला शीशम की लकड़ी से बनाया जाता है। तबले को बजाने के लिये हथेलियों तथा हाथ की उंगलियों का प्रयोग किया जाता है। मुंबई के दादर में रहने वाले महेंद्र चौहान पिछले 30 साल से तबला बना रहे हैं।

तबला ऐसे ही सुरीली धुन नहीं छोड़ता, इसके लिए उसे कितने ही मुश्किल परिस्थितयों से गुजरना पड़ता है...आप भी जानिए तबला बनाने की कला, महेंद्र चौहान की जुबानी...

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें