बीएमसी के इस फैसले से मुंबईकरो पर खत्म होगा टैक्स का बोझ ?

 Mumbai
बीएमसी के इस फैसले से मुंबईकरो पर खत्म होगा टैक्स का बोझ ?

मुंबई - बीएमसी के 61 हजार करोड़ रुपये बैंको में फिक्स डिपॉजिट होने का मुद्दा अब और भी गर्माता जा रहा है। बीएमसी के सारे नगरसेवको ने मांग की है की बीएमसी के फिक्स डिपॉजिट पैसों से जो टैक्स आता है उसे जनता के कार्य के लिए खर्च किया जाए। साथ ही जनता को टैक्स वसूली में भी राहत दी जाए। जिसपर मुंबई के महापौर विश्वनाथ महाडेश्वर ने शनिवार को होनेवाली सभागृह प्रशासन को इसकी जानकारी दी है।

सभागृहनेता यशवंत जाधव ने कहा की बीएमसी के इस फिक्स डिपॉजिट को लेकर मुंबईकरों के बीच कई बाते की जा रही है। बजट की पूरी रकम का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। 61 हजार करोड़ के एफडी पर बीएमसी को 4500 करोड़ का ब्याज मिलता है। यशवंत जाधव ने बीएमसी से मांग की है की बीएमसी इस मुद्दे पर अपनी राय साफ करे। साथ ही सपा के गटनेता रईश शेख ने मांग की है की ब्याज से मिलेनवाले इस पैसे के बाद मुंबईकरो से कोई भी टैक्स ना लिया जाए। बीजेपी के गटनेता मनोज कोटक ने भी अपनी आवाज बुलंद करते हुए कहा की बीएमसी को जनता से टैक्स नहीं लेना चाहिए।

कांग्रेस के गटनेता रवी राजा ने कहा की बीएमसी को पैसो का सही वितरण करना चाहिए। इस बैठक में ज्येष्ठ नगरसेवक प्रभाकर शिंदे,पूर्व महापौर स्नेहल आंबेकर, अनिल पाटणकर ने भी हिस्सा लिया।

Loading Comments