बीएमसी ठेकेदारों पर छापा

छापे के दौरान 735 करोड रुपए खर्च के सबूत भी मिले हैं

SHARE

राज्य में सत्ता को लेकर शिवसेना बीजेपी बीच चल रहे विवाद के बाद अब महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर काफी बड़ा पेचीदा मोड़ आ गया है,  इस बीच मुंबई में बीएमसी से जुड़े ठेकेदारों के 30 ठिकानों पर इनकम टैक्स का छापा पड़ा और 7 का सर्वे किया गया ।छापों के दौरान ठेकेदारों में कई तरह की गड़बड़ियां पाई गई ।इनकम टैक्स विभाग के अधिकारियों ने कहा कि कुल मिलाकर 30 परिसरों पर छापे मारे गए और छह नवंबर को 7 जगहों का सर्वे किया गया। इनकम टैक्स को इन ठिकानों पर छापे के दौरान 735 करोड रुपए खर्च के सबूत भी मिले हैं।

आपको बता दें कि बीएमसी में इस वक्त बीजेपी और शिवसेना की सत्ता है। इस वक्त बीएमसी पर शिवसेना का कब्जा है बीएमसी के 227 सदस्यों में से शिवसेना के 94 सदस्य हैं तो वहीं भारतीय जनता पार्टी के 82 कॉरपोरेटर है। आपको बता दें कि यह छाापा उस समय हुआ है जब महाराष्ट्र में सरकार को लेकर शिवसेना और बीजेपी के बीच काफी अनबन चल रही है। मुख्यमंत्री पद को लेकर दोनों पार्टियों के बीच हुए विवाद के बाद बीएमसी ठेकेदार पर इस तरह की रेट पड़नाबहुत बड़ा सवाल खड़ा कर रहा है ।

राज्य में सरकार बनाने को लेकर एक बार फिर से शिवसेना कांग्रेस और एनसीपी सक्रिय हो गए हैं शिवसेना का कहना है कि सरकार बनाने के लिए तीनों पार्टियों ने न्यूनतम साझा कार्यक्रम तैयार किया है इस कार्यक्रम को लागू करने के लिए तीनों ही पार्टियों ने एक पैनल भी तैयार किया गया है



संबंधित विषय
ताजा ख़बरें