Advertisement

कमला मिल आग हादसा : पुलिस और बीएमसी ने जिम्मेदारी से किया होता काम तो शायद...!

पुलिस और बीएमसी के नाक के नीचे फल फूल रहे इन अवैध पब और बारों के मालिकों पर प्रशासन इतना मेहरबान क्यों था यह बात किसी को बताने की जरुरत नहीं है।

कमला मिल आग हादसा : पुलिस और बीएमसी ने जिम्मेदारी से किया होता काम तो शायद...!
SHARES

कमला मिल हादसे के लिए प्रत्यक्ष तौर पर सीधे सीधे चाहे जो जिम्मेदार हो लेकिन इस हादसे के लिए बीएमसी और पुलिस भी काम जिम्मेदार नहीं है. अगर पुलिस और बीएमसी ने समय रहते अपना काम जिम्मेदारी से निभाई होती तो शायद यह घटना नहीं होती और 14 लोग असमय काल के गाल में नहीं समाते।


रात भर रहते थे गुलजार

लोअर परेल कमला मिल कंपाउंड में कई पब, बार एंड रेस्टोरेंट, होटल्स रात में गुलजार रहते हैं। कई पब और बार तो ऐसे हैं जिन्होंने सड़कों पर अतिक्रमण तक किया था। अब यह कहना तो बेमानी होगी कि पुलिस इन सारी गतिविधियों से अनजान थी। पुलिस और बीएमसी के नाक के नीचे फल फूल रहे इन अवैध पब और बारों के मालिकों पर प्रशासन इतना मेहरबान क्यों था यह बात किसी को बताने की जरुरत नहीं है।


हर 'फ्लेवर' की मांग होती थी पूरी 

बताया जाता है कि हर वीकेंड यहां युवाओं की भारी भीड़ जुटती थी, लोग पार्टियां करते जिनमें शराब और नशे का सेवन करना आम बात थी। मोजोस लाऊंज को शुरु हुए अभी कुछ ही महीने हुए थे लेकिन यहां युवाओं की काफी भीड़ जमा होती थी। सूत्रों की माने तो युवाओं की यहां हर 'फ्लेवर' की मांग पूरी होती थी। यही नहीं किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए यहां हमेशा पुलिस की हमेशा एक या दो गाड़ी हमेशा खड़ी ही रहती है, अंधेरे में कई कपल्स यहां अश्लील हरकत भी करते नजर आते थे लेकिन पुलिस ने कभी कोई कार्रवाई नहीं की।

'वुमन लास्ट नाइट' थीम पर थी पार्टी

सूत्रों के अनुसार लोगों को आकर्षित करने के लिए 31st के अवसर पर मोजोस लॉउंज में 'वुमन लास्ट नाइट' थीम पर पार्टी आयोजित की गयी थी। इसीलिए पब में युवतियों की संख्या अधिक थी। आग लगने के बाद खुद को बचाने के लिए महिलाएं बाथरूम में छुप गयी लेकिन धुएं से उनका दम घुट गया इसीलिए अधिकांश महिलाओं की लाश बाथरूम से मिली।


चढ़ता था न्योछावर

स्थानीय पब और बार में काम करने वाले एक कर्मचारी ने नाम न बताने की शर्त पर बताया कि इस मौज मस्ती के लिए पुलिस को लाखो का 'न्योछावर' चढ़ता है। इसीलिए इस पर इतनी कृपा बनी रहती है।



Read this story in मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें