Advertisement

ड्राइवर की सतर्कता से बच गयी 48 यात्रियों की जान

बस में अचानक आग लग गयी थी और थोड़ी ही देर में बस पूरी तरह से जल कर ख़ाक हो गयी, लेकिन इसके पहले ही बस ड्राइवर ने सभी यात्रियों को बस से उतार दिया था।

ड्राइवर की सतर्कता से बच गयी 48 यात्रियों की जान
SHARES

महाराष्‍ट्र के नवी मुंबई इलाके में एक बस ड्राइवर की सतर्कता से एक भीषण हादसा होते होते बच गया, जिससे बस में सवार 48 यात्रियों की जान बच गई। दरअसल इस बस में अचानक आग लग गयी थी और थोड़ी ही देर में बस पूरी तरह से जल कर ख़ाक हो गयी, लेकिन इसके पहले ही बस ड्राइवर ने सभी यात्रियों को बस से उतार दिया था।

बताया जा रहा है कि रविवार रात लगभग 1.15 बजे मुंबई-गोवा हाइवे पर साईं पूजा नामक प्राइवेट लग्‍जरी बस सिंधुदुर्ग से मुंबई आ रही थी। बस जब पोलादपुर नामके गांव पहुंची तो ड्राइवर विद्यानंद किर्लोस्कर ने शीशे में देखा कि पिछले टायर में से धुआं निकल रहा है। इसके बाद विद्यानंद किरलोस्‍कर ने बस रोक दी और सभी यात्रियों को तत्काल बस से उतरने को कहा।

किर्लोस्कर का कहना है कि बस से यात्रियों ने सामान भी उतार लिया। जैसे ही बस पूरी तरह से खाली हुई, आग ने विकराल रूप धारण कर लिया और धू-धू करके जलने लगी। 

इसके बाद यात्रियों के लिए चिपलुन से दूसरी बस की गई और उसे मुंबई के लिए रवाना किया गया। इस पुलिस ने दुर्घटनावश आग लगने का मामला दर्ज कर लिया है। गनीमत रही कि इस हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ है।

कांदिवली के रहनेवाले ड्राइवर विद्यानंद किर्लोस्कर के  सतर्कता की अब सभी प्रशंसा कर रहे हैं।

संबंधित विषय
Advertisement