Advertisement

मानसून के कारण फलों और सब्जियों की कीमतों में बढ़ोतरी

सभी प्रकार की सब्जियों के दामों में 10 से 20 प्रतिशत तक की वृद्धि हुई

मानसून के कारण फलों और सब्जियों की कीमतों में बढ़ोतरी
SHARES

भीषण गर्मी और मानसून से पहले हुई बारिश ने फलों और सब्जियों को भारी नुकसान पहुंचाया है। फलों और सब्जियों की खेती प्रभावित हुई है और आयात कम हो रहा है। सभी प्रकार की सब्जियों के दामों में 10 से 20 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। फलों और सब्जियों के साथ पत्तेदार सब्जियों के दामों पर भी असर पड़ा है। थोक मंडी में फलों और सब्जियों की आवक पिछले सप्ताह से कम है।(Monsoon leads to rise in prices of fruits and vegetables0

रविवार को मंडी प्रांगण में थोक मंडी में राज्य के साथ-साथ राज्य के बाहर से 80 से 90 ट्रक फल और सब्जियां आईं। पिछले दो सप्ताह से मंडी में फलों और सब्जियों की आवक सामान्य से कम है। रुक-रुक कर हो रही बारिश ने फलों और सब्जियों की खेती को प्रभावित किया है। फलों और सब्जियों का भारी नुकसान हुआ है। नई रोपाई में कम से कम एक से डेढ़ महीने का समय लगेगा। इसलिए फलों और सब्जियों के दामों में तेजी जारी रहेगी। यह भी पढ़ें: बीएमसी अवैध स्ट्रीट फूड विक्रेताओं के खिलाफ सख्त कदम उठाएगी।

फलों और सब्जियों की प्रति किलो कीमत

  • प्याज- 40 से 45 रुपए
  • आलू- 40 से 45 रुपए
  • टमाटर- 70 से 80 रुपए
  • भिंडी- 120 से 140 रुपए
  • गोवर- 150 से 160
  • बैंगन- 80 से 100
  • फूल- 100 से 120
  • गोभी- 70 से 80
  • मेथी- 40 से 50
  • धनिया- 50 से 60

पत्तेदार सब्जियों के दाम में बढ़ोतरी

बारिश से पत्तेदार सब्जियों पर असर पड़ा है। पिछले पंद्रह दिनों से पत्तेदार सब्जियों की आवक कम हो गई है। बाजार में अच्छी गुणवत्ता वाली पत्तेदार सब्जियों की आवक कम है। खुदरा बाजार में एक गुच्छा धनिया की कीमत 50 से 60 रुपए के बीच है।

यह भी पढ़े-  बीएमसी अवैध स्ट्रीट फूड विक्रेताओं के खिलाफ सख्त कदम उठाएगी

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें