अब स्ट्रीट फूड भी होंगे ऑफिशियल वेरिफाइड!


SHARE

आज का युवा पिढ़ी फास्ट फुड को कुछ ज्यादा ही खाती है। कई बार इन फास्ट फु्ड्स का परिणा सेहत पर काफी बूरा पड़ता है। जिसे देखते हुए अब इन फास्ट फुड को भी वेरिफाईड किया जाएगा। एफडीआई द्वारा अब सड़क खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता की जांच की जाएगी और इन्हे वेरिफाईड किया जाएगा। फूड्स एंड ड्रग ऍडमिनिस्ट्रेशन और एफ एफ एस की ओर से संयुक्त रुप से 7 जून को विश्व दिन सुरक्षा मनाया जा रहा है।

क्या है मुहिम
एफडीआई और एफएसए संस्था की ओर से 7 जून 2018 को अंतर्राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा दिवस समारोह के तहत, महाराष्ट्र में 30 रेस्तरां को उनके स्वच्छता मानकों द्वारा प्रमाणित किया जाएगा। रेस्तरां को उनकी सफाई, पानी की गुणवत्ता, रसोई के लेआउट के आधार पर प्रमाण पत्र दिए जाएंगे। महाराष्ट्र में जब सर्वेक्षण किया जाएगा तो 30 रेस्तरां को पहला प्रमाणपत्र दिया जाएगा, जिसमें मुंबई, पुणे और नागपुर जिलों शामिल है।

यह भी पढ़े- अमित शाह ने माधुरी दीक्षित से की मुलाकात? धक-धक गर्ल को राज्यसभा का ऑफर

क्लिन स्ट्रीट फूड हब
महाराष्ट्र में कई ऐसे प्रसिद्ध स्थान है जहां लोग स्ट्रीट फुड खाने के लिए जाते है। लेकिन कई बार स्ट्रीट फुड लोगों की सेहत को नुकसान पहुंचाते है। एफडीआई क्लीन स्ट्रीट फूड हब नामक अभियान शुरू करने जा रहा है। इसमें महाराष्ट्र के मुख्य 4 स्थानों का सर्वेक्षण किया जाना है, मुंबई में जुहू चौपाटी और गिरगांव चौपाटी, पुणे में सारस बाग और नागपुर के फुटाला तलाव के पास स्ट्रीट फुट खाने के लिए लोगों का जमावड़ा लगा रहता है। एफडीए यहां स्ट्री फुट की जांच करेगा और अगर किसी स्टॉल का खाना सहीं निकला तो उसपर कार्रवाई की जाएगी।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें