जब अतिरिक्त आयुक्त के पास नहीं था सवाल का जवाब...

    Mumbai
    जब अतिरिक्त आयुक्त के पास नहीं था सवाल का जवाब...
    मुंबई  -  

    बीएमसी की स्थायी समिति में चर्चा के लिए आने से पहले सभी प्रस्तावों का अध्ययन करना बीएमसी के अतिरिक्त आयुक्त के लिए बाध्यकारी है। जो सवाल समिति के सदस्यों द्वारा उठाया जाएगा उसका वह अनुमान नहीं लगा सकते। बीएमसी की अतिरिक्त आयुक्त पल्लवी दराडे ने बुधवार को समिति के अध्यक्ष को सूचना दी कि एन वार्ड में लाल बहादुर शास्त्री मार्ग के सुधार पर उठाए गए सवाल का जवाब अगली बैठक में दिया जाएगा। यह सवाल समिति में लोक प्रतिनिधियों द्वारा प्रशासनिक अधिकारियों से जवाब के लिए उठाया गया।

    बुधवार को गरोडिया नगर-घाटकोपर और एलबीएस रोड पर सड़क में सुधार के बारे में अतिरिक्त प्रस्तावों को स्थायी समिति की बैठक में रखा गया। जब समिति के अध्यक्ष ने चर्चा के लिए इन प्रस्तावों की घोषणा की तो अतिरिक्त आयुक्त पल्लवी दराडे ने बताया कि वह अगली बैठक में इन प्रस्तावों पर जवाब देंगी। इस पर आपत्ति उठाते हुए भाजपा नगरसेवक प्रभाकर शिंदे ने कहा कि समिति में बात करने के लिए नगरसेवकों के अधिकार छीनने का एक प्रयास है। एमएनएस नगरसेवक दिलीप लांडे ने बताया कि ठेकेदार के पैसे की कमी के कारण इन सड़कों पर काम रुक गया है। समाजवादी पार्टी के रईस शेख ने पूछा कि समिति अध्यक्ष या प्रशासन द्वारा चलाया जा रहा है । भाजपा के मनोज कोटक जोर देकर कहा कि समिति की बैठक में प्रस्तावित प्रस्ताव पर उत्तर के लिए प्रश्न पूछने का अधिकार है। वहीं पल्लवी दराडे ने सुझाव दिया है कि अध्यक्ष अगली मीटिंग तक होल्ड पर रखे इन प्रस्तावों को रख सकते हैं।

    Loading Comments

    संबंधित ख़बरें

    © 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.