नींद में खलल डालना पुलिस कर्मचारी को पड़ा महंगा, युवक ने जड़ा थप्पड़

अंबोली पुलिस का यह कर्मचारी पासपोर्ट वेरिफिकेशन के लिए व्यक्ति के घर गया था, और दरवाजा बंद होने पर दरवाजा खटखटाया रहा था।

नींद में खलल डालना पुलिस कर्मचारी को पड़ा महंगा, युवक ने जड़ा थप्पड़
SHARES


सो रहे व्यक्ति की नींद में खलल डालना अंबोली पुलिस के एक कर्मचारी को महंगा पड़ गया। व्यक्ति ने आवेश में आकर पुलिस कर्मचारी को थप्पड़ जड़ दिया। अंबोली पुलिस का यह कर्मचारी पासपोर्ट वेरिफिकेशन के लिए व्यक्ति के घर गया था, और दरवाजा बंद होने पर दरवाजा खटखटाया रहा था। इतने में उसका पड़ोसी वहां आ गया और उसने 'इतना जोर से मत चिल्लाओ' कहते हुए पुलिस कर्मचारी पर हाथ उठा दिया।

क्या था मामला?

मिली जानकारी के मुताबिक़ अंबोली पुलिस में तैनात अण्णासाहेब दराडे (54) पासपोर्ट वेरिफिकेशन का काम देखते हैं। साथ ही ये पासपोर्ट के लिए आवेदन करने वालो के घर जाकर उनका डाक्यूमेंट्स भी चेक करते हैं। 30 जनवरी के दिन भी ये  पासपोर्ट से संबंधित डाक्यूमेंट्स चेक करने के लिए जोगेश्वरी के केविनपाड़ा में स्थित एक सोसायटी में रहने वाले सतीश डांगे (31) के यहां गये। 

सतीश डांगे का दरवाजा उस समय बंद था। दरवाजा बंद देख दराडे ने दरवाजा खटखटाया। लेकिन दरवाजा नहीं खुला। दराडे ने जोर-जोर से डांगे का नाम पुकारा और दरवाजा खटखटाया, लेकिन फिर भी दरवाजा नहीं खुला।

इतने में डांगे के पड़ोस में रहने वाली एक महिला बाहर आई और उसने नाराज होते हुए दराडे को जोर-जोर से नहीं चिल्लाने की बात कही, यही नहीं अभी महिला और डांगे बात ही कर रहे थे कि इतने में वहां डांगे का दूसरा पड़ोसी भी आ गया और उसने दराडे से कहा कि, वह इतना जोर से क्यों चीख और चिल्ला रहा है। इसके पहले दराडे कुछ समझ पाते उस युवक ने दराडे को थप्पड़ जड़ दिया और उसे बिल्डिंग के बाहर निकाल दिया।

दराडे ने उक्त शख्स की शिकायत अंबोली पुलिस में दर्ज करा दी है। पुलिस ने इस इस्माइल नामके आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय