महिला ने दिखाई बहादुरी, एक बड़ी घटना होने से बचाई

 Mulund
महिला ने दिखाई बहादुरी, एक बड़ी घटना होने से बचाई
महिला ने दिखाई बहादुरी, एक बड़ी घटना होने से बचाई
महिला ने दिखाई बहादुरी, एक बड़ी घटना होने से बचाई
See all

मुलुंड में घटी एक घटना से आपके भी होश उड़ा सकती है, साथ ही आप भी इससे सीख ले सकते हैं। मुलुंड में स्थित मंदार सोसायटी में रहने वाला वाणगे परिवार के लिए शनिवार का दिन बेहद ही खौफ भरा था। शनिवार की दोपहर में 77 वर्षीय संध्या वाणगे जब घर में आराम कर रही थी तभी उनके घर की बेल बजी। संध्या ने जब घर का दरवाजा खोला तो बाहर खड़े शख्स ने खुद को महानगर गैस से आया हुआ बताया और मीटर रीडिंग चेक करने के बहाने घर में घुस गया। उस अज्ञात शख्स ने संध्या से बातों बातों में घर में किसी पुरुष के भी न होने की जानकारी ले ली।  


थोड़ी देर के बाद ही उक्त शख्स ने चाक़ू निकाल कर संध्या के गले पर रख दिया और उससे रुपए और गहनों की मांग करने लगा। संध्या ने देखते ही शोर मचाना शुरू कर दिया. शोर सुन कर बेडरूम में सोई संध्या की बहु नीलम वाणगे जाग गई और बाहर आ गई। नीलम ने हिम्मत करके उस शख्स के चंगुल से संध्या को छुड़ाया और उसे लेकर बेडरूम में चली गई। नीलम ने अंदर से बेडरूम का दरवाजा बंद कर लिया और खिड़की से मदद के लिए जोर जोर से चिल्लाना शुरू कर दिया। यह देखते ही वह शख्स घबरा कर घर से भाग निकला लेकिन उसका मोबाइल वहीं छुट गया। आवाज सुनकर सारे पड़ोसी संध्या के घर पहुंचे। उन्होंने मुलुंड के नवघर पुलिस को इसकी सूचना दी। मौके पर नवघर पुलिस ने पहुंच कर मोबाइल को अपने कब्जे में ले लिया और मोबाइल के आधार पर मात्र कुछ घंटों के अंदर ही उस शख्स को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने बताया कि आरोपी का नाम सुभाष सोनावणे हैं। पुलिस ने उसके खिलाफ के स दर्ज करे हुए उसे जेल भेज दिया। पुलिस सहित तमाम लोगों ने नीलम के बहादुरी की दाद दी और उसकी प्रशंसा भी की।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 





Loading Comments