सुशांत आत्महत्या मामले की जांच हमें सौंपी जाए : CBI

सीबीआई ने गुरुवार को कहा कि, इस मामले से जुड़ी ज्यादातर चीजें मुंबई में ही हुई हैं, ऐसे में यह बिहार पुलिस की जांच क्षेत्र में नहीं आता है। इसीलिए हमें और ईडी को जांच करने दिया जाए।

सुशांत आत्महत्या मामले की जांच हमें सौंपी जाए : CBI
SHARES

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या (bollywood actor sushant singh rajput suicide case) मामले में सीबीआई (CBI) ने गुरुवार को कहा कि, इस मामले से जुड़ी ज्यादातर चीजें मुंबई (Mumbai) में ही हुई हैं, ऐसे में यह बिहार पुलिस की जांच क्षेत्र में नहीं आता है। इसीलिए हमें और ईडी (ED) को जांच करने दिया जाए। गौरतलब है कि, इस मामले में सुशांत (sushant singh rajput) की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती (Rhea chakraborthy) ने सुप्रीम कोर्ट (supreem court) में याचिका दायर कर मांग की है कि, पटना में दायर एफआईआर को मुंबई ट्रांसफर किया जाए।

सुशांत द्वारा आत्महत्या करने और मुंबई पुलिस की जांच से संतुष्ट न होने के बाद पटना में सुशांत के पिता केके सिंह ने रिया पर एफआईआर दर्ज कराई थी। इसमें कहा गया था कि एक्ट्रेस ने सुशांत को आत्महत्या के लिए उकसाया था।

इस केस को लेकर बिहार सरकार ने कहा कि, CBI इस केस की गहराई से जांच करेगी, इसीलिए इस मामले की जांच सीबीआई से कराई जाए

जबकि रिया चक्रवर्ती (Rhea chakraborthy) के वकील ने इसके विरोध में कहा, सुशांत केस को सीबीआई को सौंपने का फैसला बिहार पुलिस की अनुशंसा पर लिया गया है। और ऐसा करना उनके अधिकार क्षेत्र में नहीं आता।

तो वहीं मुंबई के जाने माने वरिष्ठ वकील उज्ज्वल निकम ने कहा कि, अगर सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर रिया की याचिका पटना सेे मुंबई ट्रांसफर किया जाता है तो ऐसी स्थिति में तकनीकी तौर पर सीबीआई जांच रद्द मानी जाएगी।

आपको बता दें कि, 11 अगस्त को हुई इस मामले की सुनवाई में कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा था। उसके बाद गुरुवार को हुई इस केस से जुड़े सभी पक्षों यानी रिया, सुशांत के परिवार, बिहार और महाराष्ट्र पुलिस से लिखित जवाब देने को कहा गया था।

इसके अलावा अधिकार क्षेत्र में केस नहीं होने के आधार पर जांच नहीं होने की बात पर बिहार पुलिस ने स्पष्टीकरण देते हुए कहा है कि, धारा 156(2) में साफतौर पर कहा गया है कि किसी पुलिस अफसर को महज इस आधार पर जांच से नहीं रोका जा सकता कि वह उसके अधिकार क्षेत्र में नहीं आता।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय