'कृष्णा चली लंदन' सीरियल में काम दिलाने के बहाने कई लोगों से की लाखों की ठगी

ये इतने शातिर थे कि पैसे का भुगतान ये पेटीम, नेट बैंकिंग के द्वारा ही करवाते और एक बार जब इनेक बताये हुए बैंक खाते में पैसा जमा हो जता था तो ये दोनों अपने फोन बंद करके दूसरा नंबर ले लेते थे।

'कृष्णा चली लंदन' सीरियल में काम दिलाने के बहाने कई लोगों से की लाखों की ठगी
SHARES

टीवी सीरियल में काम दिलाने के नाम पर कई लोगों से लाखो रुपए ठगने के आरोप में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। इन दोनों आरोपियों के नाम अविनाश अरूण कुमार शर्मा (24) और विनोद भंडारी (30) है। बताया जाता है कि दोनों ने करीब 70 से 80 स्ट्रगलिंग कलाकारों से सीरियल 'कृष्णा चली लंदन' में काम दिलाने के बहाने लाखों रुपए की उगाही की।

क्या था मामला?
पुलिस के मुताबिक ये दोनों अपने आप को सिंटा प्राइवेट लिमिटेड का अधिकारी बताते थे। इनके निशाने पर अकसर स्ट्रगलिंग कलाकर हो होते थे जो काम की तलाश में भटकते रहते थे। इसी तरह से इन दोनों ने स्टार प्लस में प्रसारित होने वाले टीवी सीरियल 'कृष्णा चली लंदन' में काम दिलाने के बहाने कई लोगों से पैसे लिए थे।

लोगों को इन पर विश्वास हो इसके लिए ये दोनों फर्जी करारनामा भी बनवा कर उस पर लोगों के दस्तखत भी ले लेते थे। यही नहीं ये इतने शातिर थे कि पैसे का भुगतान ये पेटीम, नेट बैंकिंग के द्वारा ही करवाते और एक बार जब इनेक बताये हुए बैंक खाते में पैसा जमा हो जता था तो ये दोनों अपने फोन बंद करके दूसरा नंबर ले लेते थे। इस तरह से इन दोनों ने लगभग 70 से 80 लोगों को ठगा था।

कई लोगों से शिकयत मिलने के बाद पुलिस सक्रिय हुई और इन दोनों को गिरफ्तार किया। अब पुलिस उन सभी लोगो से संपर्क कर रही है जिन लोगों को इन्होने ठगा है ताकि इन दोनों आरोपियों के खिलाफ केस मजबूत हो सके।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय