SHARE

नवी मुंबई क्राइम ब्रांच की एंटी एक्सटॉर्शन सेल ने बच्चा चुराने वाली गैंग के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इस सदस्य में दो पुरुष सहित दो महिला भी शामिल हैं। यही नहीं पुलिस ने इनके पास से 10 या 15 दिन का एक नवजात शिशु भी मिला है जिसे ये लोग बेचने की फ़िराक में थे।


क्या था मामला?

जांच अधिकारी ने बताया कि उनकी टीम को गुप्त सूचना मिली थी कि दो महिला और दो पुरुष एक नवजात बच्चे को बेचने की तैयारी कर रहे हैं। सूचना के आधार पर पुलिस की टीम ने पुलिस वाले को नकली ग्राहक बना कर बच्चा खरीदने के लिए भेजा। उस पुलिस की निशानदेही के आधार पर पुलिस ने दोनों महिला और पुरुष को गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से पुलिस को 15 दिन का एक नवजात शिशु भी मिला।

पुलिस ने जिन चारों आरोपियों को गिरफ्तार किया उनके नाम हैं-
1) नागिना बेगम युसूफ खान ,उम्र-28
2) मंजूषा कथोड़ा,उम्र -23
3) माजीद अब्दुल अजीज शेख, उम्र-26
4) रईस हजरत काजी उम्र-27

पुलिस जांच में जुटी 

जांच अधिकारी ने बताया कि माजिद और रईस दोंनो मुम्ब्रा के रहने वाले हैं और नगीना अंबीवली की रहने वाली है जबकि मंजूषा मुंबई के खार रोड की रहने वाली है। अधिकारी ने कहा कि बच्चे की देखभाल के लिए उसे विश्व बालक चैरिटेबल ट्रस्ट के हवाले कर दिया गया है। साथ ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार करके उन्हें 27 तारीख तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। पुलिस अब इस बात की भी जांच कर रही है कि ये लोग बच्चा कहां से लाए थे और अब तक ऐसे कितने बच्चों को बेचा है?

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें