COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
54,05,068
Recovered:
48,74,582
Deaths:
82,486
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
34,288
1,240
Maharashtra
4,45,495
26,616

PMLA कोर्ट ने नीरव मोदी की 1400 करोड़ की संपत्ति जब्त करने का दिया आदेश

नीरव मोदी को 19 मार्च, 2019 को गिरफ्तार किया गया था तभी से ही वह लंदन की वैंड्सवर्थ जेल में बंद हैं। उस पर पीएनबी घोटाले (PNB Fraud case) में लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (LoUs) जारी करने और फ्रॉड करने का आरोप है।

PMLA कोर्ट ने नीरव मोदी की 1400 करोड़ की संपत्ति जब्त करने का दिया आदेश
SHARES

PNB घोटाले के आरोपी भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) को मुंबई की प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) कोर्ट ने सोमवार को बड़ा झटका देते हुए उसकी 1400 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त करने का आदेश दिया। कोर्ट ने यह आदेश आर्थिक अपराधी भगोड़ा कानून के अंतर्गत दिया। गौरतलब है कि नीरव मोदी पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के 13,000 करोड़ रुपये से अधिक के धोखाधड़ी मामले का मुख्य आरोपी है, जो इस समय फरार है और लंदन में है।

कोर्ट के इस आदेश के बाद नीरव मोदी की मुम्बई, दिल्ली, जयपुर, अलीबाग, सूरत में संपत्ति है। लगभग 1400 करोड़ की संपत्ति पर भारत सरकार का कब्जा होगा। इसके अलावा उसकी मुंबई के वर्ली में समुद्र महल नामक बिल्डिंग में नीरव मोदी के छह अपार्टमेंट हैं। प्रत्‍येक अपार्टमेंट की कीमत करीब 100 करोड़ रुपये है। और उसके पास महंगी कार, पेंटिंग्स, आभूषण भी है।

ED के अनुसार इन सब के अलावा दक्षिण मुंबई में कालाघोड़ा इलाके में 3500 वर्ग फीट रिदम हाउस के नाम से एक बड़ा म्‍यूजिक स्‍टोर, पेडर रोड पर एक प्रॉपर्टी , ब्रीच कैंडी रोड पर एक ऊंची इमारत में फ्लैट, ओपेरा हाउस में 3 फ्लैट हैं।

इसके बाद मुंबई , जयपुर, सूरत, दिल्ली के पॉश इलाकों में फ्लैट है और महाराष्‍ट्र के अलीबाग के तट पर एक आलीशान बीच विला भी था, जिसे जमीदोंज कर दिया गया।

इसके पहले इसी साल मार्च 2020 में ED ने नीरव मोदी की कई संपत्तियों को जब्त कर नीलाम किया था। नीरव मोदी की महंगी पेंटिंग, घड़ी, पर्स, महंगी कार, हैंडबैग जैसी चीजों को नीलामी की गई थी जिससे ED को करीब 51 करोड़ प्राप्त हुए थे।

आपको बता दें कि नीरव मोदी को 19 मार्च, 2019 को गिरफ्तार किया गया था तभी से ही वह लंदन की वैंड्सवर्थ जेल में बंद हैं। उस पर पीएनबी घोटाले (PNB Fraud case) में लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (LoUs) जारी करने और फ्रॉड करने का आरोप है।

संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें