कर्जदारों से बचने के लिए बिल्डर ने रची साजिश, साजिश का पता चलने पर बिल्डर की ही मां चल बसी

आग्रीपाड़ा इलाके में रहने वाले एक नामचीन बिल्डर को उसके बिजनस में काफी आर्थिक नुकसान हुआ था। उसने अपने काम के लिए कई लोगों से उधार लिया था। यही नहीं बिल्डर अपनी उधारी चुका भी नहीं पा रहा था। इसे लेकर बिल्डर पर काफी मानसिक दबाव था।

SHARE

मुंबई के अग्रीपाड़ा इलाके में रहने वाले एक बिल्डर ने कर्जदारों से बचने के लिए एक साजिश रची, लेकिन इस साजिश का खुलासा होने पर जब पुलिस ने बिल्डर को गिरफ्तार किया तो इस बात को बिल्डर की मां सह नहीं सकी और हार्ट अटैक आने से बिल्डर की मां चल बसी।

आग्रीपाड़ा इलाके में रहने वाले एक नामचीन बिल्डर को उसके बिजनस में काफी आर्थिक नुकसान हुआ था। उसने अपने काम के लिए कई लोगों से उधार लिया था। यही नहीं बिल्डर अपनी उधारी चुका भी नहीं पा रहा था। इसे लेकर बिल्डर पर काफी मानसिक दबाव था।

अपने उधार को समाप्त करने के लिए बिल्डर ने एक साजिश रची। बिल्डर ने पुलिस ने झूठी रिपोर्ट लिखाई कि उसे जान से मारने की धमकी दी जा रही है। जब पुलिस ने जांच शुरू की तो उन्हें पता चला कि बिल्डर ने झूठी रिपोर्ट दर्ज कराई है।

साथ ही पुलिस को यह भी पता चला कि बिल्डर ने कर्जदारों से बचने के लिए झूठी रिपोर्ट दर्ज कराई है। यह बात सामने आने के बाद पुलिस ने बिल्डर पर झूठी शिकायत दर्ज कराने के लिए बिल्डर के खिलाफ केस दर्ज किया। लेकिन यह बात बिल्डर की मां सह नहीं सकी और उन्हें हार्ट अटैक आ गया जिससे उनकी मौत हो गयी।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें