COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
59,44,710
Recovered:
56,85,636
Deaths:
1,16,026
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
14,807
666
Maharashtra
1,39,960
9,830

विश्व हिंदू महासभा के अध्यक्ष रणजीत बच्चन की हत्या के मामले में मुंबई से शूटर गिरफ्तार

इसके अलावा शूटर से पूछताछ के बाद दो और अन्य लोगों को हिरासत में लिया गया

विश्व हिंदू महासभा के अध्यक्ष रणजीत बच्चन की हत्या के मामले में मुंबई से शूटर  गिरफ्तार
SHARES

लखनऊ में  हुए  विश्व हिंदू महासभा(vishwa hindu mahasabha )  के अध्यक्ष रणजीत बच्चन की हत्या के मामले में पुलिस ने  एक शूटर को मुंबई से गिरफ्तार  में लिया है।  बताया जा रहा है कि हत्या के बाद शूटर लखनऊ से मुंबई भाग गया था। जिसके बाद पुलिस ने छापामारी कर उसे मुंबई से गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार करने के बाद आरोपी को लखनउ लेकर जाया जा रहा है।  इसके अलावा शूटर से पूछताछ के बाद दो और अन्य लोगों को हिरासत में लिया गया। परिजनों के मोबाइल फोन(mobile phone)  और सीडीआर(cdr) खंगालने के बाद मुंबई कनेक्शन सामने आया था। रणजीत की मॉर्निंग वॉक से लौटते वक्त रविवार को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

कैसे हुई हत्या

बता दें कि विश्व हिंदू महासभा के अध्यक्ष रणजीत बच्चन (42) की रविवार सुबह राजधानी के परिवर्तन चौक स्थित ग्लोब पार्क के पास दो बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। हत्या उस वक्त की गई जब रणजीत अपने दोस्त व रिश्तेदार आदित्य श्रीवास्तव(aditya shrivastav)  के साथ ग्लोब पार्क के मुख्य गेट के सामने मॉर्निंग वॉक कर रहे थे। गोली आदित्य को भी लगी। घटना के बाद बदमाश वहां से पैदल भाग निकले। घटना के बाद लखनऊ पुलिस ने घायल आदित्य की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी।


पुलिस ने कैसी की जांच

क्राइम ब्रांच ने जब रणजीत की पहली पत्न कालिन्दी व गोरखपुर में कई रिश्तेदारों से पूछताछ की तो एक महिला का नाम सामने आया। इस महिला को लेकर रणजीत का कुछ लोगों से विवाद भी हुआ था। इसके बाद ही पड़ताल आगे बढ़ी तो इस महिला की कॉल डिटेल से कुछ संदिग्ध लोग के नाम सामने आये। फिर गुत्थी सुलझती चली गई। मंगलवार को पता चला कि एक संदिग्ध युवक घटना के दिन लखनऊ में था, फिर हत्या के दूसरे दिन यानी सोमवार को उसकी लोकेशन मुंबई में निकली।

लखनऊ में रणजीत पत्नी कालिंदी के साथ ओसीआर बिल्डिंग के बी ब्लॉक में फ्लैट नंबर 604 में रहते थे। यह आवास 2013 में सपा सरकार ने कालिंदी की संस्था को आवंटित किया था। 

संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें