लॉ के पाठ्यक्रम में 60:40 पैटर्न

इस नए पैटर्न के अनुसार अब छात्रों को 60 मार्क की लिखित परिक्षा देनी होगी और बाकी के 40 मार्कस कॉलेज में लेक्टर ,प्रेक्टिल और अन्य गतिविधियों पर आधारित होंगे।

SHARE

मुंबई विश्वविद्यालय  ने लॉ के पाठ्यक्रम में 60:40 पैटर्न को लागू करने का फैसला किया है।  पिछलें साल बॉम्बे हाईकोर्ट ने विश्वविद्यालय के इस फैसले को रोक दिया था। इस नए पैटर्न के अनुसार अब छात्रों को 60 मार्क की लिखित परिक्षा देनी होगी और बाकी के 40 मार्कस कॉलेज में लेक्टर ,प्रेक्टिल और अन्य गतिविधियों पर आधारित होंगे।  इसके पहले छात्रों को 100 नंबर की लिखित परीक्षा देनी होती थी।  


हालांकी की छात्र काउंसिल ने इसपर आपत्ति भी जताई है। एसएलसी के अध्यक्ष सचिन पवार के अनुसार, एमयू के तहत कई कॉलेजों को प्रोफेसरों और सुविधाओं की कमी जैसे मुद्दों का सामना करना पड़ रहा है, जो पिछले साल से ही बना हुआ है। कुलपति ने मुद्दों को हल करने के लिए कोई जिम्मेदारी नहीं ली है और पैटर्न को फिर से अपना रहे हैं जो की सही नहीं है।

परिषद का कहना है की  वह वीसी को इस्तीफा इस देने के लिए एक ऑनलाइन याचिका शुरू करेगी और साथ ही मांग की है की   60:40 पैटर्न मामले पर  विश्वविद्यालय इसे लागू करनेपर और भी स्पष्टता दे।

यह भी पढ़े- 2 दिनों में मुंबई में हो सकती है बारिश- स्काईमेट

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें