इस मॉनसून रहें फिट और हैल्दी, अपनाएं ये 8 टिप्स

मॉनसून के दौरान अगर आपने यहां बताई गई 8 सावधानियां बरतीं तो आप बिना बीमार पड़े इस बारिश का जमकर लुत्फ उठा पाएंगे। टिप्स बेहद आसान हैं।

  • इस मॉनसून रहें फिट और हैल्दी, अपनाएं ये 8 टिप्स
  • इस मॉनसून रहें फिट और हैल्दी, अपनाएं ये 8 टिप्स
  • इस मॉनसून रहें फिट और हैल्दी, अपनाएं ये 8 टिप्स
  • इस मॉनसून रहें फिट और हैल्दी, अपनाएं ये 8 टिप्स
  • इस मॉनसून रहें फिट और हैल्दी, अपनाएं ये 8 टिप्स
SHARE

गर्मी के बाद बारिश का मौसम जिस तरह से पूरे माहौल को हरा भरा बनाने वाला होता है, उसी तरह यह बीमारियों को भी न्यौता देता है, उनकी ताकत बढ़ाता है। इस मौसम में अपच, डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया, टायडफाइड, वायलर फीवर, पीलिया और मलेरिया जैसी तमाम बीमारियां हो सकती हैं। अगर हमारे द्वारा बताई जाने वाली इन खास सावधानियों को आप बरतेंगे तो आपको ये बीमारियां आपको छू भी नहीं पाएंगी और आप मॉनसून को मजा भी ले पाएंगे।

 

संतुलित भोजन

 

मॉनसून के समय डायजेशन सिस्टम धीमा हो जाता है, इसलिए खाना तभी खाएं जब भूख लगे और कम खाने में भरोसा रखें। अधिक खाने से आपको अपच की शिकायत और जॉनडिस का भी खतरा हो सकता है। अपने हर दिन के खाने में केला, अनार, चेरी, लिची जैसे फल और गाजर, शलजम जैसी सब्जियों को जरूर शामिल करें। पर ध्यान रखें ये फल और सब्जियां ताजे हों और अच्छी तरह से साफ करके ही खाएं।


बाहर के खाने को कहें अलविदा

 

मॉनसून में चाट, सैंडविच, तले हुई चीजें जैसे वड़ा पाव, समोसा पाव, भजिया को देखकर ही खाने का मन कर आता है। लेकिन इन तमाम चीजों में बैक्टीरिया हो सकते हैं, जो आपको बीमार बना सकते हैं। इसलिए मॉनसून में बाहर के खाने पर खुद से परहेज करें।


पानी अधिक पिएं

इस मौसम में नमी का लेवल अधिक होने की वजह से हमारी बॉडी से ज्यादा पसीना नहीं निकलता। पसीना ना निकलने से शरीर की गर्मी बाहर नहीं निकलती। इसलिए पानी ज्यादा से ज्यादा पिएं। हमेशा अपने पास पानी की एक बॉटल रखें। साथ ही ध्यान रखें पानी शुद्ध व उबला हुआ हो।

 

मच्छर और कीड़ों का घर से करें खात्मा

 

बारिश आते ही गुलदस्ता और कूलर्स को अच्छी तरह से साफ कीजिए, क्योंकि यहां जमा हुए पानी में मच्छर आसानी से पनपते हैं। जिनके काटने से डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया जैसी बीमारियां हो सकती हैं। किचेन में लौंग और कपूर का इस्तेमाल कीजिए। जिसकी वजह से कीड़े वहां पर नहीं रहेंगे।


पैरों को रखें सूखा

अगर बारिश में आपके पैर गीले हो जाते हैं तो घर आकर गरम पानी से पैर धुलकर सूखे तौलिए से उन्हें ठीक से साफ कीजिए। गीले पैरों में फंगल इन्फेक्शन होने का खतरा रहता है। समय समय पर नीम की पत्तियों का धुआं घर पर करते रहिए। यह आपके लिए और आपके कपड़ों के लिए बहुत लाभकारी साबित होगा।

 

बच्चों का खास खयाल

 

बच्चों को बारिश में भीगना अच्छा लगता है और इन्फेंक्शन को बच्चों को बीमार करना बहुत अच्छा लगता है। इसलिए इस मौसम में बच्चों का खास खयाल रखना आवश्यक है, वरना बच्चे बड़ी बीमारी की चपेट में आ सकते हैं। जब भी आपके बच्चे बाहर से भीगकर आएं तो उन्हें किसी एंटिसेप्टिक के साथ गरम पानी से नहलाएं। बच्चों को जंक फूड की जगह घर पर सूप और ज्यूस बनाकर दें। आपके इस कदम से बच्चों को सही तरीके से न्यूट्रीशन मिल सकेगा।

 

क्या पहनें?

बारिश के मौसम में जीन्स ना पहनें, यह एक बार गीला होता है तो इसे सूखने में बहुत वक्त लगता है। जिसकी वजह से फंगल इन्फेक्शन हो सकता है। शरीर के जिन हिस्सों में फंगल इन्फेक्शन हो सकता है वहां टाल्कम पावडर का इस्तेमाल करें। गीले जूते पहनने से बचें इससे इन्फेक्शन का खतरा बढ़ जाता है।

 

घर पर योगा 

बारिश की वजह से आपका एक्सरसाइज करने का रुटीन टूट सकता है। इसलिए एक्सरसाइज को छोड़ने की वजाय इसे घर पर ही करें। घर पर आसान स्ट्रेचेस और योगा कर सकते हैं। अगर यह करने का मूड नहीं है तो तो घर की साफ सफाई कर लें इससे घर भी साफ हो जाएगा और एक्सरसाइज भी हो जाएगी।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें