Advertisement

कंगना ने उद्धव पर निकाली जम कर भड़ास

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM uddhav thackeray) ने बिना नाम लिए अभिनेत्री कंगना रनौत (kangana ranaut) पर भी निशाना साधा था, जिसके बाद अब कंगना ने एक के बाद एक कई सारे ट्वीट कर उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) के खिलाफ जम कर भड़ास निकाली है।

कंगना ने उद्धव पर निकाली जम कर भड़ास
SHARES

दशहरा के दिन शिवसेना द्वारा आयोजित की जाने वाली दशहरा रैली (dussehra rally) में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM uddhav thackeray) ने बिना नाम लिए अभिनेत्री कंगना रनौत (kangana ranaut) पर भी निशाना साधा था, जिसके बाद अब कंगना ने एक के बाद एक कई सारे ट्वीट कर उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) के खिलाफ जम कर भड़ास निकाली है।

उद्धव ने कहा था कि, आप यहां रोजगार के लिए आते हैं और मुंबई को बदनाम करते हैं। जिन लोगों को अपने राज्य में ठीक से खाना नहीं मिलता है, वे यहां आते हैं। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने कंगना के लिए 'गांजा की खेती' शब्द भी प्रयुक्त किया था।

जिसके बाद कंगना ने ट्विटर पर 2 मिनट का वीडियो शेयर कर कहा कि, 'उद्धव ठाकरे, तुमने कल अपने भाषण में मुझे गाली दी, नमक हराम कहा। इससे पहले भी सोनिया सेना के कई लोगों ने मुझे गंदी गालियां दी हैं, धमकाया है। मेरा जबड़ा तोड़ना या मुझे मार देना या हरामखोर कहना, इस तरह की कई गालियां पहले ही मुझे सोनिया सेना द्वारा मुझे दी जा रही हैं। लेकिन, नारी सशक्तिकरण के ठेकेदारों ने कुछ भी नहीं कहा।



कंगना ने लिखा कि, जैसे हिमालय की खूबसूरती  पर हर भारतीय का अधिकार है, वैसे ही मुंबई में मिलने वाले मौके हम सभी के लिए हैं। दोनों ही मेरे घर हैं, उद्धव ठाकरे आप हमारे लोकतांत्रिक अधिकारों की छीनने की हिम्मत नहीं कर सकते, हमें बांट नहीं सकते। आपका गंदा भाषण आपकी अयोग्यता का भद्दा प्रदर्शन है।

बॉलीवुड की क्वीन (bollywood queen) ने कहा, एक मुख्यमंत्री की हिम्मत देखिए, कि जिस देश ने उसे महाराष्ट्र का ठेकेदार बनाया, वह उसी देश को बांट रहे हैं। वे सिर्फ जनता के सेवक हैं, उनके पहले कोई और था, और वे जाएंगे तो कोई और आएगा। फिर वे ऐसा व्यवहार क्यों कर रहे हैं, जैसे महाराष्ट्र सिर्फ उन्हीं का है, आप शर्म करो, आप मुख्यमंत्री के लायक नहीं हो।

कंगना ने एक दूसरे ट्वीट में कहा कि, राउत ने मुझे हरामखोर कहा, उद्धव मुझे नमक हराम कह रहे हैं। वे दावा कर रहे हैं कि मुंबई (mumbai) में मुझे शरण नहीं मिलती तो अपने राज्य में मुझे खाना भी नहीं मिलता। शर्म करो, मैं आपके बेटे की उम्र की हूं। आपकी बातों से पता चलता है कि एक सेल्फ मेड सिंगल वूमन से आप कैसे बोलते हैं, मुख्यमंत्री आप नेपोटिज्म (भाई-भतीजावाद) के सबसे खराब प्रोडक्ट हैं।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement