शिव भोजन थाली अब 5 रुपए में मात्र


शिव भोजन थाली अब 5 रुपए में मात्र
SHARES

कोरोना वायरस के मद्देनजर देश भर में लॉकडाउन की घोषणा की गई है। तो ऐसे में दिहाड़ी मजदूर सहित उन लोगों के सामने मुसीबत आन पड़ी है जो डेली बेसिस पर कमाते थे। उनके भूखे रहने की नोबत आ गयी है। इसे देखते हुए राज्य सरकार ने शिव भोजन थाली की कीमत को घटा कर 10 रुपए से 5 रुपए कर दिया है।

राज्य के अन्न वितरण और ग्राहक संरक्षण विभाग मंत्री छगन भुजबल (chhagan bhujbal) ने कहा कि,  इस निर्णय से कोरोना के कारण जिनके भूखे रहने की स्थिति आ गयी है उन्हें काफी राहत मिलेगी।

 लॉकडाउन के कारण आर्थिक रूप से कमजोर और मजदूर वर्ग भूखा न रहे सरकार ने शिवभोजन थाली मात्र 5 रुपये में  उपलब्ध कराने का महत्वाकांक्षी निर्णय लिया है। इसके लिए सरकार ने 160 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। यह छूट  जून महीने तक लागू रहेगी ताकि आम लोगों को लॉकडाउन की स्थिति में भूखे पेट न सोना पड़े। 

यही नहीं केंद्रों में थालियों की संख्या को भी बढ़ा कर 5 गुना  कर दिया गया है।

कोरोना के प्रकोप के कारण, असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों, प्रवासियों, बाहर से आए हुए छात्रों, सड़क पर रहने वाले बेघर आदि को देखते हुए शिव भोजनी थाली योजना का विस्तार किया जा रहा है। अब इसे हर तालुका स्तर पर शुरू किया जाएगा। साथ ही केंद्रों में भोजन देने के समय मे भी वृद्धि की गई है। अब लोगों को सुबह 11 बजे से लेकर 3 बजे तक खाना मिल सकेगा।

सरकार का उद्देश्य है कि कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण, जो लोग अपने स्वयं के भोजन का खर्च नहीं उठा पा रहे हैं, उन्हें शिव भोजनालय का लाभ उठाने के लिए सुविधा दी जाएगी।  इसके अलावा, किसी भी परिस्थिति में सड़क पर रहने वाले लोग, बेघर, प्रवासी, बाहर से आने वाले छात्रों को भूखा नहीं रखा जाएगा।

शिवभोजन केंद्रों को चलाने वाले लोगों को सलाह दी जाती है कि वे हाथ धोने के लिए लोगों को साबुन प्रदान करें और केंद्रों को रोजाना कीटाणुरहित करें। साथ ही संचालकों को यह भी कहा गया है कि वे पार्सल की भी व्यवस्था करें।

इसके अलावा खाना बनाने वालों को थोड़े थोड़े देर में हाथ धोने, मास्क पहनने और साफ सफाई रखने का भी निर्देश दिया गया है। और ग्राहकों को 3-3 फीट की दूरी पर बैठाने का भी निर्देश है।

संबंधित विषय