महाराष्ट्र में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन को लेकर कांग्रेस में विरोध

सोमवार को गोवंडी इलाके के कुछ कांग्रेस नेताओं ने महाराष्ट्र में कांग्रेस एनसीपी और समाजवादी पार्टी के गठबंधन का विरोध किया है

SHARE

सोमवार को एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने ट्वीट कर जानकारी दी की महाराष्ट्र में होनेवाले विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस और एनसीपी में सीटों का बंटवारा हो गया है।  राज्य की 288 विधानसभा सीटों में से कांग्रेस और एनसीपी दोनों ही पार्टियं 125-125 सीटों पर लड़ेगी जबकी बाकी की 38 सीटों को गठबंधन की अन्य पार्टियों के लिए छोड़ दिया गया है। इन अन्य गठबंधन पार्टियों ने से एक पार्टी है समाजवादी पार्टी। सोमवार को गोवंडी कांग्रेस के सदस्यों ने समाजवादी पार्टी के साथ होनेवाले इस गठबंधन का विरोध किया है।


कांग्रेस नगरसेवक सुफियान नियाज का कहना है की " समाजवादी का वजूद सिर्फ उत्तर प्रदेश में है जब उत्तर प्रदेश में हमारा गठबंधन समाजवादी पार्टी के साथ नहीं हुआ तो फिर महाराष्ट्र में उस पार्टी के साथ गठबंधन क्यों किया जा रहा है जिसका राज्य में कोई अस्तित्व ही नहीं है, 2014 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को पूरे महाराष्ट्र में सिर्फ 94000 वोट मिले थे जो पूरे राज्य की जनसंख्या का 1 फिसदी से भी कम है तो फिर ऐसी पार्टी से गठबंधन क्यो करना?”


समाजवादी पार्टी को मिल सकती है सात सीटें

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और एनसीपी के गठबंधन में समाजवादी पार्टी को भी शामिल किया गया है।  सुत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक समाजवादी पार्टी राज्य में 7 सीटों पर कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ सकती है, जिसमें गोवंडी और भिवंडी की सीट भी शामिल है।  हालांकी अभी तक बाकी सीटों का फैसला होना बाकी है। 


संबंधित विषय
ताजा ख़बरें