Advertisement

शिवसेना को 'कराची' स्वीट्स से कोई आपत्ति नहीं है : संजय राउत

राउत ने दूकान का समर्थन करते हुए कहा कि, 'कराची बेकरी' और 'कराची स्वीट्स' की मिठाईयां मुंबई में पिछले 60 सालों से बिक रही हैं। उनका पाकिस्तान (pakistan) से कोई लेना-देना नहीं है।

शिवसेना को 'कराची' स्वीट्स से कोई आपत्ति नहीं है : संजय राउत
SHARES

'कराची' स्वीट्स (karachi sweets) को लेकर मचे विवाद के बीच अब शिवसेना (shiv sena) की भी तरफ से प्रतिक्रिया सामने आई है। शिवसेना सांसद संजय राउत (shivsena mp sanjay raut) ने कहा है कि, पार्टी को 'कराची स्वीट्स' से कोई आपत्ति नहीं है। दरअसल, शिवसेना के फायरब्रांड नेता नितिन नंदगांवकर (nitin nandgaonkar) ने 'कराची' स्वीट्स के मालिक को दूकान से 'कराची' शब्द हटाने को कहा था। जिसके बाद दुकान के मालिक उस नाम के बोर्ड को पेपर से ढक दिया था।

सांसद संजय राउत (sanjay raut) ने कहा कि, पार्टी को 'कराची' स्वीट्स से कोई आपत्ति नहीं है। बल्कि राउत ने दूकान का समर्थन करते हुए कहा कि, 'कराची बेकरी' और 'कराची स्वीट्स' की मिठाईयां मुंबई में पिछले 60 सालों से बिक रही हैं। उनका पाकिस्तान (pakistan) से कोई लेना-देना नहीं है। इसलिए उन्हें नाम बदलने को कहना समझ से पर है।

राउत ने कहा, दुकान के नाम को बदलने की मांग शिवसेना का कोई आधिकारिक रूख नहीं है।

इससे पहले शिवसेना के नेता नितिन नंदगांवकर ने कराची स्वीट्स के मालिक को उसकी दुकान में से 'कराची' शब्द हटाने की धमकी दी थी। नांदगांवकर ने इस बाबत फेसबुक लाइव (Facebook live) भी किया था। और उनका यह वीडियो देखते ही देखते वायरल हो गया।

वीडियो में नितिन दुकान के मालिक को ये कह रहे थे कि आपको ये नाम हटाना ही होगा, मुंबई में कराची नाम नहीं चलेगा।

गुरुवार की सुबह जब 'कराची' स्वीट्स की शॉप खुली तो 'कराची' शब्द पेपर से ढका हुआ था।

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें