शिवसेना कल जारी करेगी अपना घोषणापत्र

किसानों के कर्जमाफी और किसान बीमा योजना को शिवसेना अपने घोषणापत्र में शामिल कर सकती है।

SHARE

राज्य में होनेवाले विधानसभा चुनाव के लिए शिवसेना कल यानी की शनिवार को अपना घोषणापत्र जाहीर करेगी।  किसानों के कर्जमाफी और किसान बीमा योजना को शिवसेना  अपने घोषणापत्र में शामिल कर सकती है। इसके साथ ही रोजगार और  पर्यावरण के मुद्दे को भी शिवसेना अपने घोषणापत्र में रख सकती है। आपको बता दे की विधानसभा चुनाव में शिवसेना और बीजेपी एक साथ मिलकर चुनाव लड़ रहे है। जहां एक ओर शिवसेना अपना घोषणापत्र जाहीर कर रही है तो वही तदूसरी ओर बीजेपी भी आनेवाले कुछ दिनों में अपना घोषणापत्र जाहीर कर सकती है।  


किसानों के मुद्दे पर रहेगा ध्यान 

शिवसेना किसानों को मुद्दों को ध्यान में रखकर अपना घोषणापत्र बना सकती है।  किसानों के कर्जमाफी और  किसान बीमा योजना के साथ साथ उन्हे 10 हजार रुपये का भूगतान के मुद्दे को भी शिवसेना घोषणापत्र में शामिल कर सकती है। शिवसेना पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे ने एक रैली में कहा था की उनकी पार्टी सत्ता में आने के साथ ही लोगों को 10 रुपये में भरपेट खाने की भी सुविधा उपलब्ध कराएगी।  

कांग्रेस-एनसीपी ने पहले ही जाहीर किया है घोषणापत्र

जहां एक शिवसेना और बीजेपी अपना घोषणापत्र जारी करने जा रहे है तो वहीं दूसरी ओर कांग्रेस और एनसीपी ने पहले ही अपना घोषणापत्र जारी कर लिया है। घोषणापत्र में अघाड़ी ने युवाओं पर काफी ध्यान दिया है घोषणापत्र में सभी के लिए आरोग्य बीमा,बेरोजगारों के लिए 5 हजार भत्ता,80 फीसदी नौकरियां स्थानीय लोगो के लिए प्रस्ताव,पर्यावरण को देखते हुए ग्लोबल वार्मिंग पर भी ध्यान,किसानों की पूरी कर्जमाफी, मिनिमम वेतन 21000 रुपये और  500 स्कवेरफीट के घर पर प्रॉपर्टी टैक्स नही माफ करने का  वादा और सच्चर समिति की सिफारिश को लागू करना, कामगारों को परमानेंट करना शामिल है।

 घोषणापत्र में कहा गया है कि सरकार आनेपर किसानों का पूरा कर्ज माफ किया जाएगा, महिलाओ के लिए विशेष योजना बनाई जाएगी, कॉलेज कैंपस में भी छेड़छाड़ की घटनाओं को खत्म करना भी उनका मुख्य मुद्दा है। 

यह भी पढ़े- महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव- कांग्रेस एनसीपी ने जारी किया घोषणापत्र

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें