कन्फ्यूजन भरा है यह बजट- एनसीपी

विधायक जयंतराव पाटील ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन एक महिला होने के नाते इस महंगाई में महिला के दर्द को समझती लेकिन उन्होंने महंगाई कम करने के लिए ऐसा कुछ नहीं किया। इस बजट से युवा वर्ग भी निराश हुआ है।

SHARE

आम बजट को लेकर बीजेपी जहां इसे गांव, गरीब और किसान का बजट बता रही है तो वहीं एनसीपी ने इस बजट को कन्फ्यूजन से भरा बजट बता रही है। एनसीपी के प्रदेशाध्यक्ष और विधायक जयंतराव पाटील ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन एक महिला होने के नाते इस महंगाई में महिला के दर्द को समझती लेकिन उन्होंने महंगाई कम करने के लिए ऐसा कुछ नहीं किया। इस बजट से युवा वर्ग भी निराश हुआ है।

पाटील ने आगे कहा कि इस बजट को देखने और सुनने के बाद ऐसा लगता है कि यह बजट कन्फ्यूजन से भरा हुआ है। यह बजट किस क्षेत्र को प्रधान दे रहा है यह पूरी तरह से स्पष्ट नहीं है।

उन्होंने आगे कहा कि देश में बेरोजगारी है, कंपनियां बंद हो रहीं हैं, इन सभी के लिए बजट में उपाय करना चाहिए थे लेकिन ऐसा कुछ नहीं किया गया है। जयंत ने कल के आर्थिक सर्वेक्षण को भी गोलमाल बताया और कहा कि कम से कम इस बजट से हमे आशा थी कि देश के विकास इंजन को गति मिलेगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ, हमारी उम्मीदों को झटका लगा है।  

जयंतराव पाटिल ने कहा कि वित्त मंत्री को देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए कड़े कदम उठाना चाहिए था। लेकिन इस बजट में इसका अभाव नजर आया।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें