आखिर क्यों, मुंबई छोड़ ठाणे और नवी मुंबई में रहना चाहते हैं लोग

यही नहीं मुंबई के अलावा अब आसपास के इलाके भी डेवलप हो रहे हैं। जैसे पालघर जिले के बोईसर का MIDC, कल्याण MIDC, नवी मुंबई का तलोजा और पनवेल का इलाका जहां ऑफिस के साथ साथ कई कारखाने भी खुले हैं

SHARE

मुंबईकरों को मुंबई में रहने की अपेक्षा वे मुंबई के आसपास के ठिकानों को अधिक तरजीह दे रहे हैं। इसमें ठाणे और नवी मुंबई उनका पसंदीदा शहर है। आंकड़ों के अनुसार मुंबई से बीते दस वर्षों में नौ लाख लोगों का पलायन हुआ है। इन नौ लाख लोगों में से आठ लाख लोग अकेले ठाणे में आकर रहने लगे। इनमें से अधिकांश लोग ऐसे थे जो दक्षिण मुंबई से यहां आकर बसे हैं।

क्या है कारण?

रिपोर्ट के मुताबिक 2001 और 2011 की जनगणना के बीच ठाणे की आबादी 29.3 लाख थी, पिछली जनगणना में इस बात की पुष्टि होती है कि ठाणे की जनसंख्या दस गुना बढ़ी है। इसका कारण मुंबई से अधिकतर लोग यहां शिफ्ट हो गये। सेंटर फॉर रिसर्च मेथोडॉलजी के प्रफेसर डी.पी सिंह ने कहा कि मुंबई शहर की तुलना में ठाणे में घरों की आसान उपलब्धता और रहने के लिए एक बेहतर स्थान होने के कारण ठाणे लोगों को आकर्षित करता है, जबकि दूसरा एक कारण यही भी है कि   मुंबई में घर खरीदना अब लोगों की पहुंच से बाहर हो गया है। ठाणे और नवी मुंबई के अलावा  लगभग 1.1 लाख लोग रायगढ़ शिफ्ट हो गए। 

यही नहीं मुंबई के अलावा अब आसपास के इलाके भी डेवलप हो रहे हैं। जैसे पालघर जिले के बोईसर का MIDC, कल्याण MIDC, नवी मुंबई का तलोजा और पनवेल का इलाका जहां ऑफिस के साथ साथ कई कारखाने भी खुले हैं, और वहां जनसंख्या घनत्व काफी कम है और ओपन स्पेस भी है।

ठाणे सबसे पसंदीदा शहर
रिपोर्ट यह भी कहती है कि यह पलायन खासकर मध्यमवर्गीय परिवारों में अधिक देखने को मिल रहा है। बढ़ती हुई जनसंख्या का ही परिणाम है कि ठाणे शहर को दो भागो में बांटना पड़ा। ठाणे के कल्याण, डोम्बिवली में भी यह असर देखने को मिल रहा है, जबकि भिवंडी और उल्हासनगर भी इससे अछूता नहीं बचा है।

नवी मुंबई आकर्षण का केंद्र
यही नहीं पालघर के अलग जिला घोषित होने के बाद अब पालघर और बोईसर लोगों का पलायन बढ़ गया है। जबकि नवी मुंबई का पनवेल, तलोजा जैसे क्षेत्र अब बड़े पैमाने पर विकास देख रहे हैं। पनवेल में बनने वाला नया हवाई अड्डा भी लोगों को आकर्षित कर रहा है। 

(यह खबर सबसे पहले ऑनलाइन एनबीटी में छपी थी। )

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें