21 मई से सतीश सबनीस ओपन रैपिड शतरंज चैंपियनशिप की शुरुआत

 Shivaji Park
21 मई से सतीश सबनीस ओपन रैपिड शतरंज चैंपियनशिप की शुरुआत

4थीं सतीश सबनीस ओपन रैपिड शतरंज चैंपियनशिप 21 मई से शिवाजी पार्क जिमखाना में आयोजित किया जा रहा है। 21 मई को सुबह 9 बजे से इस प्रतियोगिता की शुरुआत की जाएगी। इस मौके पर शिवाजी पार्क के उच्च अधिकारियों के साथ साथ सतीश सबनीस फाउंडेशन के सदस्य तथा अन्य मान्यवर उपस्थित होंगे। इस प्रतियोगिता में भाग लेने वाले इच्छुक खिलाड़ी 20 मई तक अपना आवेदन दे सकते है। आवेदन के लिए आप सीधे शिवाजी पार्क जिमखाना जा सकते है या फिर www.shivajiparkgymkhana.com पर जाकर ऑनलाइन आवेदन भर सकते है। इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए पंजीकरण शुल्क 600 रुपये है। प्रतियोगिता में कुल मिलाकर 1.51 लाख की इनामी राशि रखी गई है। इस प्रतियोगिता में 6 से 16 साल के उम्र के खिलाड़ी हिस्सा ले सकते है। प्रतियोगिता में विजेता को 21,000 रुपये इनामी राशि दी जाएगी तो वहीं उपविजेता को 15,000 रुपये की इनामी राशि दी जाएगी। उसी दिन शाम को 6 बजे प्रतियोगिता का पुरस्कार वितरण समारोह होगा I जिस में मराठी फिल्म अभिनेता भरत जाधव प्रमुख अतिथी के तौर पे शामिल होंगे I

क्या है सतीश सबनीस ओपन रैपिड शतरंज चैंपियनशिप -

पिछले 4 सालों से शतरंज के खिलाड़ियों को अच्छा प्लेटफॉर्म देने और अच्छे टैलेंट वाले खिलाड़ियो को लोगों के सामने लाने के लिए सतीश सबनीश फाउंडेश लगातार इस दिशा में प्रयत्नशील है। खिलाड़ियों को ना ही सिर्फ इनामी राशि दी जाती है बल्की उन्हे उनके भविष्य के लिए संस्था द्वारा अच्छे अवसर भी प्रदान किये जाते है। पिछले चार सालों से संस्था खेल को बढ़ावा देने के लिए अलग अलग खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन करती आ रही है। खेल के साथ साथ संस्था सामाजिक कार्यों में भी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेती है।

स्वर्गीय सतीश सबनीस के बारे में-

स्वर्गीय सतीश सबनीस शतरंज की दुनिया में एक जाना माना चेहरा है। 1984 में पहली बार उन्होने अंतरराष्ट्रीय शतरंज प्रतियोगिता का आयोजन किया। शतंरज के प्रति उनका लगाव किसी से छुपा नहीं था। शतरंज के प्रति ये उनकी तपस्या ही थी जो उन्हे इस खेल में राज्य और देश स्तर के प्रतियोगिताओ में प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला। स्वर्गीय सतीश सबनीस महाराष्ट्र शतरंज संगठन के अध्यक्ष और राष्ट्रीय शतरंज फेडरेशन के उपाध्यक्ष भी रहे। वह दुबई शतरंज ओलंपियाड के प्रबंधक भी रहे। ग्रॅण्डमास्टर विश्वनाथन आनंद का यह पहला विदेश दौरा था I ग्रॅण्डमास्टर प्रवीण ठिपसे, अभय ठिपसे, भाग्यश्री साठे जैसे बहोत से चेस खिलाडियों को सतीश सबनीस जी का मार्गदर्शन मिला था I


उनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें)


Loading Comments