जेट एय़रवेज फिलहाल बंद , नहीं मिला बैंको से पैसा

कंपनी के बोर्ड ने बैंकों के कंशोर्सियम से पैसा न मिलने के कारण यह फैसला लिया है।

SHARE

कर्ज में डूबी जेट एयरवेज पर आखिरकार ताला लग गया है। जेट आज रात  अपनी आखिरी उड़ान भरेगी। बैंको के साथ बातचीत विफल होने के कारण जेट एयरवेज को बैंको की ओर से पैसे नहीं मिल पाए, जिसके कारण फिलहाल जेट एयरवेज ने अपनी सारी फ्लाइट रद्द कर दी है।   कंपनी के बोर्ड ने बैंकों के कंशोर्सियम से पैसा न मिलने के कारण यह फैसला लिया है।

बैंकों के साथ मीटिंग में कोई फैसला नहीं

इससे पहले कंपनी के केवल सात विमान ही परिचालन में थे। कंपनी के बोर्ड ने बैंकों के कंशोर्सियम से पैसा न मिलने के कारण यह फैसला लिया है। सोमवार को कंपनी ने बैंकों के साथ मीटिंग की थी। लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। कंपनी के बंद होने के बाद  20 हजार लोगों की नौकरी चली जायेगी। कर्मचारी इससे पहले मुंबई में भी इसी तरह का प्रदर्शन कर चुके हैं जहाँ कंपनी का मुख्यालय है।

पिछले कैलेंडर वर्ष में 4,244 करोड़ रुपये का नुकसान उठा चुकी कंपनी ने जनवरी से पायलटों, रखरखाव अभियंताओं और प्रबंधन के वरिष्ठ अधिकारियों को वेतन नहीं दिया है। अन्य कर्मचारियों को आंशिक वेतन दिया जा रहा था, लेकिन उन्हें भी मार्च का वेतन अब तक नहीं मिला है।

यह भी पढ़े- ED मुंबई चीफ विनीत अग्रवाल पर गिरी गाज, विवाद के बाद 3 साल पहले ही पद से हटाए गए

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें