Advertisement

छात्रों को लोकल ट्रेन में यात्रा करने की दी जाए अनुमति

एसोसिएशन ने आगे कहा कि, एक तो कसारा-कर्जत जैसे इलाकों में सार्वजनिक परिवहन सुविधाओं की कमी है और उनके द्वारा जो किराया वसूला जाता है उससे लोगों का बजट बिगड़ जाता है

छात्रों को लोकल ट्रेन में यात्रा करने की दी जाए अनुमति
SHARES

स्कूल (school) , कॉलेज (college), आईटीआई (ITI) जैसे शैक्षणिक संस्थान, सहित जो अन्य संस्थान कोरोना (Covid19) के कारण बंद किए गए थे, उन्हें अब धीरे-धीरे शुरू कर दिया गया है, साथ ही जो बंद हैं, उन्हें भी शुरू करने का का निर्णय लिया जा रहा हैं। कई छात्रों ने तो स्कूल भी जाना शुरू कर दिया है। इसके अलावा, उपनगरिय की लगभग 90 फीसदी लोकल ट्रेनें (local train) चल रही हैं। यह सब देखते हुए कल्याण-कसारा रेलवे पैसेंजर्स वेलफेयर एसोसिएशन की तरफ से यह मांग की गई है कि, छात्रों को भी स्कूल जाने के लिए लोकल ट्रेनों से यात्रा करने की अनुमति दी जानी चाहिए।

एसोसिएशन के कहना है कि, भीड़भाड़ के कारण, सामान्य यात्रियों पर लोकल ट्रेनों में यात्रा करने पर जो प्रतिबंध लगाए गए हैं उसे भी अब हटा दिया जाना चाहिए। क्योंकि ट्रेनों में तो वैसे भी भीड़भाड़ बढ़ ही रही है। मुंबई में होटल, बार, पब, डिस्को सभी देर रात तक खुले रहते हैं। इस नाइटलाइफ़ (night life) के लिए युवाओं की एक बड़ी भीड़ जुटती है। इस पर कोई प्रतिबंध नहीं हैं। तो वहीं स्कूली छात्रों, इंजीनियरिंग और तकनीकी छात्रों को लोकल ट्रेन में यात्रा करने की अनुमति नहीं मिलने के कारण बहुत परेशानी से गुजरना पड़ रहा है।

इस एसोसिएशन ने आगे कहा कि, एक तो कसारा-कर्जत जैसे इलाकों में सार्वजनिक परिवहन सुविधाओं की कमी है और उनके द्वारा जो किराया वसूला जाता है उससे लोगों का बजट बिगड़ जाता है, इसलिए छात्रों को लोकल ट्रेनो में यात्रा करने की अनुमति देकर उन्हें राहत दी जाए।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें