अगर कोई अच्छा डायरेक्टर बनाता है तो जरूर करूंगी वेब सीरीज: तब्बू

तब्बू ने एक खास इंटरव्यू में 'दे दे प्यार दे', अजय देवगन की दोस्ती और पर्सनल जिंदगी से जुड़े कई सवालों का बेबाकी से जवाब दिया।

  • अगर कोई अच्छा डायरेक्टर बनाता है तो जरूर करूंगी वेब सीरीज: तब्बू
  • अगर कोई अच्छा डायरेक्टर बनाता है तो जरूर करूंगी वेब सीरीज: तब्बू
SHARE

‘माचिस’, ‘अस्तित्व’, ‘मकबूल’, ‘चांदनी बार’ और ‘चीनी कम’ जैसी कई बेहतरीन फिल्मों में अपनी अदाकारी का लोहा मनवाने वाली नेशनल अवॉर्ड विनर एक्ट्रेस तब्बू जल्द ही अजय देवगन के साथ फिल्म ‘दे दे प्यार दे’ में नजर आने वाली हैं। इस फिल्म में उन्होंने अजय की पत्नी का किरदार निभाया है। फिल्म का ट्रेलर बेहद ही मजेदार और फनी है, फिल्म 17 मई को रिलीज के लिए तैयार है। फिल्म की रिलीज से पहले तब्बू ने मुंबई लाइव से खास मुलाकात की। इस मुलाकात में उन्होंने फिल्म और निजी जिंदगी से जुड़े सवालों का खुलकर बेबाकी से जवाब दिया।


अजय देवगन के साथ आपने पहले भी काम किया और अभी भी, उनमें पहले से कोई बदलाव? 

एज ए पर्सन वे बिलकुल भी नहीं बदले हैं। जहां तक उन्नति की बात है तो वह तो हर किसी के जीवन में होता समय के साथ आपके अनुभव बढ़ते हैं और आप उन्नति करते हैं। उनके भीतर जो टैलेंट है वह अविश्वसनीय है। उन्होंने एक्शन से लेकर कॉमेडी रोमांस सभी जॉनार्स में खुद को साबित किया है।

आप उम्र के गैप को किस तरह से देखती हैं, यह समाज में किस तरह का प्रभाव डालता है

जहां तक इस फिल्म की बात है तो यह फिल्म उम्र के गैप को लेकर बिलकुल भी नहीं है। हां, ट्रेलर से थोड़ा ऐसा जरूर लगता है, पर फिल्म में ऐसा नहीं है। फिल्म में यह दिखाया गया है कि एक नया रिश्ता कैसे बनता है और फिर फैमिली के बीच किस तरह की सिचुएशन बनती हैं।

उम्र को लेकर हर किसी का अपना अलग मत और अनुभव होता है। एक रिश्ते में क्या होता है वह दो लोग ही जानते हैं और समझ पाते हैं। पर इसको सामान्य तौर पर देखा जाए तो तो जब दो अलग अलग उम्र के लोग साथ आते हैं तो जो उनकी अनकन्वेंशनल जरूरतें होती हैं अपोजिट सेक्स के लिए तो उनका रिश्ता भी अनकन्वेशनल होता है।

वेब सीरीज की तरफ कोई झुकाव? 

अगर कोई अच्छा डायरेक्टर बनाता है और मुझे कोई अच्छा किरदार ऑफर होता है, तो जरूर करना चाहूंगी।  

आपकी नजर में वेब सीरीज फिल्मों के बॉक्स ऑफिस कलेक्शन पर कितना प्रभाव डालती हैं?

मैं इतना ट्रेड नहीं समझ पाती हूं कि वेब फिल्मों पर कितना असर डाल रही हैं। लेकिन वेब की व्यूवरशिप बहुत ज्यादा है। फैन फॉलोविग, फैन बेस ऑडियंस बहुत बड़ी है। आपके नजदीक के जानने वाले भी वेब सीरीज के बारे में बात करते हैं। बोलते हैं- अमेजन का एपिसोड देखा कि नहीं, 6.30 बजे उठकर ‘गेम ऑफ थ्रोन्स’ का एपिसोड देखना है। इससे समझ में आता है कि वेब का एक बड़ा वर्ल्ड बन गया है।

बाकी एक्ट्रेस के मुकाबले आपने कम फिल्में की हैं, क्या आपको इस बात का पछतावा है?
अभी नहीं, मैंने हमेशा से ही कम फिल्में की हैं। पर मुझे पछतावा किसी भी बात का नहीं है। क्योंकि में आज में जो यहां पर हूं वह उन फिल्मों के करने और न करने से हूं। इसमें से कुछ भी बदलता तो आज मैं यहां नहीं होती।

आप हमेशा से अपनी मां के काफी करीब रही हैं, कोई खास बात जो शेयर करना चाहें?

मेरी मां हमेशा मुझे स्कूल के पास के एक गार्डन में खाना खिलाने आती थीं। मैं स्कूल में B, C और D को उल्टा लिखा करती थी। तो मेरी टीचर ने मां को बोला था प्रैक्टिस कराने की जरूरत है। तो लंच ब्रेक में आकर मेरी मां गार्डन ले जाती वहां खाना खिलाती और B, C और D सिखाया करती थीं। मेरी जिंदगी की कोई भी चीज मेरी मां से अलग नहीं है। आज भी मैं उनके ही साथ में रहती हूं। मैं खुद की लाइफ को उनसे अलग होकर नहीं देख पाती हूं। मेरे स्कूल की यूनिफॉर्म को अभी तक उन्होंने संभाल कर रखा है। मेरे जीवन में उनका रहना मेरे लिए ऑक्सीजन की तरह है।

क्या आपका कोई ड्रीम रोल रहा है जो आपने अब तक नहीं किया है?

मेरी हर रोल मेरे लिए मेरा ड्रीम रोल होता है। वो इसलिए क्योंकि में हर किरदार को बड़े ही प्यार के साथ स्क्रीन पर निभाती हूं। मेरी समझ से जबतक आपके पास वह रोल आपके पास नहीं आता तब तक उससे एक लगाव या प्यार महसूस नहीं होता।


संबंधित विषय