श्रीदेवी की मौत नहीं हत्या हुई थी, एक बड़े पुलिस अधिकारी ने किया चौकानें वाला खुलासा

एक वेबसाइट से बात करते हुए बोनी कपूर ने इन सभी दावों को खारिज करते हुए बताया कि, ' ये सब बकवास बातें हैं इस पर मैं कोई जवाब नहीं देना चाहता। वैसे भी ऐसी बातों पर कोई रिएक्शन नहीं दिया जाना चाहिए।

SHARE

अभिनेत्री श्रीदेवी की मौत को एक साल से अधिक हो गया बावजूद इसके अभी भी उनकी मौत को लेकर गाहे बगाहे आशंका व्यक्त की जाती है। अब एक बार फिर से उनकी मौत को लेकर एक दावा किया जा रहा है। केरल के डीजीपी जेल और आईपीएस अधिकारी ऋषिराज सिंह ने अपने एक दोस्त के द्हवारा लिखी गयी एक किताब के हवाले से यह दावा किया है श्रीदेवी की मौत बाथटब में डूबने से नहीं हुई थी, बल्कि उनका मर्डर किया गया था। ऋषि राज के इस दोस्त का नाम डॉ. उमादथन था जो एक जाने-माने फोरेंसिक सर्जन थे। हालांकि, डीजीपी अपने जिस दोस्त के हवाले से यह कह रहे है  उनकी बीते बुधवार को 73 साल की उम्र में केरल के एक निजी अस्पताल में मौत हो गई है।

कौन है डॉ. उमादथन 
डॉ. उमादथन फॉरेंसिक के विद्वान माने जाते थे। उनकी रिपोर्ट से केरल सरकार ने कई बड़ी-बड़ी मर्डर मिस्ट्री सुलझा चुकी है। डॉ. उमादथन द्वारा केस सुलझाने की इसी इसीलिए काबिलियत का लोहा केरल सरकार भी मानती थी।

किताब में किया गया है जिक्र
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार दरअसल ऋषिराज ने डॉ. उमादथन की मौत के बाद एक किताब लिखी। इस किताब में उन्होंने डॉ. उमादथन के बारे में लिखा है साथ ही अनेक उस घटनाओं का जिक्र है जिसकी वजह से डॉ. उमादथन के फोरेंसिक रिपोर्ट की सहायता बड़े-बड़े केसों को सुलझाने में सहायता मिली। इसी किताब में इन्होने उस वाकये का भी जिक्र किया है जिसमें उन्होंने श्रीदेवी की मौत को लेकर डॉ. उमादथन से डिस्कस किया था।

ऋषिराज सिंह कहते हैं कि एक बार उहोंने ऐसे ही जिज्ञासावश अपने दोस्त डॉ. उमादथन से श्रीदेवी की मौत के बारे में पूछा था। लेकिन डॉ. उमादथन ने जो जवाब दिया उससे ऋषिराज सिंह चौंक गये। डॉ. उमादथन ने बताया कि वह पूरे मामले को बहुत करीब से देख रहे थे। डॉ. उमादथन ने बताया कि ऐसी स्थिति में किसी कि मौत कभी नहीं हो सकती। कई परिस्थितियां ऐसी बनी कि जिससे यह स्पष्ट था कि यह एक एक्सिडेंट नहीं था, बल्कि यह एक मर्डर था। डॉ. उमादथन के अनुसार उनकी रिसर्च के अनुसार कई ऐसे पहलू सामने आये जिससे आत्महत्या की बात हजम नहीं होती है।

ऋषिराज सिंह अपनी किताब में लिखते हैं कि मेरे दोस्त ने बताया कि नशे में धुत कोई भी इंसान किसी भी परिस्थिति में महज एक फिट गहरे बाथटब में डूब नहीं सकता है। आगे लिखा गया है कि, दोस्त ने बताया कि 'यह किसी भी तरह से संभव ही नहीं है कि कोई नशे की अवस्एथा में मात्र एक फुट गहरे बाथटब में डूब जाए। दोस्त ने आगे दावा किया था कि बिना किसी के दबाव डाले किसी शख्स का सिर और पैर एक फुट गहरे बाथटब में नहीं डूबेगा। किसी ने उनके दोनों पैर पकड़े हुए थे, उसके बाद उनके सिर को पानी में डुबोया होगा।'

क्या हुआ था श्रीदेवी के साथ 
आपको बता दें कि पिछले साल 24 फरवरी के दिन श्रीदेवी मोहित मारवाह की शादी में शामिल होने के लिए दुबई गई थीं।लेकिन वहां उनकी मौत नशे की हालत में बाथटब में डूबने से हो गयी। दुबई पुलिस की छानबीन में भी कुछ हाथ नहीं आया।

बोनी कपूर ने दिया जवाब 
एक वेबसाइट से बात करते हुए बोनी कपूर ने इन सभी दावों को खारिज करते हुए बताया कि, ' ये सब  बकवास बातें हैं इस पर मैं कोई  जवाब नहीं देना चाहता। वैसे भी ऐसी बातों पर कोई रिएक्शन नहीं दिया जाना चाहिए। इस तरह की बातें आती रहेंगी। आप इन्हें रोक नहीं सकते हैं। यह किसी की कल्पना का हिस्सा है।'

संबंधित विषय