Advertisement

Thappad की स्पेशल स्क्रीनिंग आयोजित करने के लिए बड़े-बड़े फिल्ममेकर आए एक साथ

एक अनोखी रणनीति के तहत, 'थप्पड़' (Thappad) के मेकर इसकी रिलीज से बहुत पहले, देश के विभिन्न शहरों में विशेष स्क्रीनिंग आयोजित कर रहे हैं। इस फिल्म में तापसी पन्नू लीड रोल में हैं।

Thappad की स्पेशल स्क्रीनिंग आयोजित करने के लिए बड़े-बड़े फिल्ममेकर आए एक साथ
SHARES

एक अनोखी रणनीति के तहत, 'थप्पड़' (Thappad) के मेकर इसकी रिलीज से बहुत पहले, देश के विभिन्न शहरों में विशेष स्क्रीनिंग आयोजित कर रहे हैं। इस फिल्म में तापसी पन्नू लीड रोल में हैं।

'आर्टिकल 15' और 'मुल्क' जैसी फिल्मों के फिल्मकार अनुभव सिन्हा को 'थप्पड़' के कंटेंट पर इतना विश्वास है कि उन्होंने 10 दिन पहले ही फिल्म की स्क्रीनिंग आयोजित करने के लिए हामी भर दी है। जब से फिल्म का ट्रेलर रिलीज हुआ, इसे दर्शकों, आलोचकों और उद्योग के साथियों द्वारा समान रूप से इसके विषय के लिए खूब सरहाया जा रहा है।

अब, बॉलीवुड के सबसे प्रसिद्ध फिल्मकार अनुराग कश्यप, सुधीर मिश्रा, हंसल मेहता, और विशाल भारद्वाज दिल्ली, जयपुर, भोपाल और मुंबई जैसे विभिन्न शहरों में फिल्म की विशेष स्क्रीनिंग की मेजबानी करने के लिए एक साथ आ गए हैं।

अनुभव सिन्हा द्वारा निर्देशित फिल्म का समर्थन करने पर अनुराग कश्यप ने अपने विचार साझा करते हुए कहा, इस तरह की एक अविश्वसनीय फिल्म एक साधारण तर्क पर आधारित है जिसकी इस देश में बहुत आवश्यकता है। यह सामाजिक पितृसत्तात्मक कंडीशनिंग के वर्षों को खत्म करने के लिए पर्याप्त शक्तिशाली है। इससे पहले कभी किस फिल्म को देखकर मेरी आंखों में आंसू नहीं आए थे जो इस फ़िल्म को देखने के दौरान हुआ। इस फिल्म से जुड़े गर्व के कारण, मुझे थप्पड़ के लिए स्क्रीनिंग की मेजबानी करने में खुशी हो रही है। यह वस्तुतः महिलाओं से अधिक पुरुषों के लिए एक फिल्म है।

विशाल भारद्वाज, जो इस महीने की 18 तारीख को दिल्ली में फिल्म की स्क्रीनिंग की मेजबानी करेंगे, अपने विचार साझा करते हुए कहते है, मुझे लगता है कि यह एक बहुत महत्वपूर्ण फिल्म है। मैंने यह फ़िल्म देख ली है और व्यक्तिगत रूप से मुझे यह बेहद पसंद आई है। मैं इस फिल्म और इससे जुड़ी भावनाओं को अनुभव के साथ अपना बनाना चाहता था।

हंसल मेहता ने कहा, थप्पड़ हमारे समय की सबसे महत्वपूर्ण फिल्मों में से एक है, जो आज भारत में सबसे महत्वपूर्ण सिनेमाई आवाज में से एक द्वारा निर्देशित है। यह न केवल एक महत्वपूर्ण फिल्म है, बल्कि यह एक बहुत अच्छी तरह से निर्मित सिनेमाई रत्न है। मुझे अपने पसंदीदा शहर जयपुर में लिंग समानता और महिलाओं के अधिकारों के लिए कई चैंपियंस के बीच इस फिल्म का प्रीव्यू प्रस्तुत करने पर गर्व है। यह एक ऐसी फिल्म है जो देश भर में कई बातचीत का मुद्दा बनेगी। असंवेदनशील पुरुषों सावधान हो जाइए!" हंसल 21 फरवरी को जयपुर में फिल्म की स्क्रीनिंग की मेजबानी करेंगे।

वहीं, सुधीर मिश्रा कहते है,  रोमांचक समय में, सामाजिक-राजनीतिक फिल्में बनाने में स्वतंत्र फिल्म निर्माताओं को एक-दूसरे का समर्थन करते देखना शानदार बात हैं। अनुभव ने हाल के दिनों में ऐसी फिल्में बनाई हैं जिनमें राजनीतिक रूप से प्रासंगिक सामयिक विषय उजागर किया हैं। थप्पड़ ऐसी ही एक फिल्म है।" निर्देशक भोपाल में 20 फरवरी को फ़िल्म की स्क्रीनिंग की मेजबानी करेंगे।

अंत में, अनुभव सिन्हा ने खुद थप्पड़ के लिए एक साथ आये निर्देशकों पर अपने विचार साझा किया है और कहा, मैंने उन्हें नहीं चुना है। ये वो दोस्त हैं जो मेरी सभी फिल्मों को पहले कट की शुरुआत से सबसे पहले देखते हैं। जहां तक मुझे याद है कि मार्केटिंग टीम विभिन्न शहरों में फिल्म की स्क्रीनिंग जल्दी शुरू करना चाहती थी और यह योजना सामूहिक रूप से विकसित हुई कि वे विभिन्न शहरों में स्क्रीनिंग की मेजबानी करेंगे। मैं बहुत खुश और सौभाग्यशाली हूं कि जिनसे मैं इतने वर्षों से प्रेरित होता आया हूं, वह दर्शकों को थप्पड़ से परिचित करवाएंगे।


थप्पड़ एक रिश्ते की कहानी है, जो विवाह में पुरुषों और महिलाओं के रिश्तों के बीच के होने वाले मुद्दों की अधिकता से निपटता है। अनुभव सिन्हा और भूषण कुमार द्वारा निर्मित और तापसी पन्नू द्वारा अभिनीत 'थप्पड़' 28 फरवरी 2020 में रिलीज के लिए तैयार है।

संबंधित विषय
Advertisement