Coronavirus cases in Maharashtra: 351Mumbai: 181Pune: 37Islampur Sangli: 25Nagpur: 16Pimpri Chinchwad: 12Kalyan-Dombivali: 9Thane: 9Navi Mumbai: 8Ahmednagar: 8Vasai-Virar: 6Yavatmal: 4Buldhana: 4Satara: 2Panvel: 2Kolhapur: 2Ulhasnagar: 1Aurangabad: 1Ratnagiri: 1Sindudurga: 1Pune Gramin: 1Godiya: 1Jalgoan: 1Palghar: 1Nashik: 1Gujrat Citizen in Maharashtra: 1Total Deaths: 16Total Discharged: 41BMC Helpline Number:1916State Helpline Number:022-22694725

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने की ऋतिक रोशन स्टारर 'सुपर 30' की तारीफ

ऋतिक रोशन अभिनीत फिल्म 'सुपर 30' 12 जुलाई को रिलीज़ हो चुकी और मिक्स प्रतिक्रियाओं के साथ बॉक्स-ऑफिस पर अच्छा कारोबार कर रही है।

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने की ऋतिक रोशन स्टारर 'सुपर 30' की तारीफ
SHARE

भारत के उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने ऋतिक रोशन की हालिया रिलीज़ 'सुपर 30' की प्रशंसा करते हुए कहा, "आनंद की प्रेरणादायक कहानी ने मेरा दिल छू लिया है।"

ऋतिक रोशन अभिनीत फिल्म 'सुपर 30' 12 जुलाई को रिलीज़ हो चुकी और मिक्स प्रतिक्रियाओं के साथ बॉक्स-ऑफिस पर अच्छा कारोबार कर रही है।

नायडू ने बुधवार को फिल्म 'सुपर 30' के निर्माताओं को फिल्म में "उज्ज्वल और प्रतिभाशाली छात्रों के सपने को साकार करने के लिए अथक परिश्रम करने वाले शिक्षक के समर्पण, प्रतिबद्धता और मिशनरी उत्साह" को इस तरह खूबसूरती के साथ चित्रित करने के लिए बधाई दी है।

फिल्म देखने के बाद एम वेंकैया नायडू ने साझा किया, "आनंद की प्रेरणादायक कहानी ने मेरा दिल छू लिया है जिसने गरीब बच्चों को एक उज्जवल भविष्य देने के लिए सभी बाधाओं के खिलाफ लड़ाई लड़ी है।" इस खास मौके पर ऋतिक रोशन भी उपराष्ट्रपति के साथ उपस्थित थे, जो फिल्म में आनंद कुमार की भूमिका निभा रहे हैं।

नायडू ने अद्वितीय कोचिंग सेंटर शुरू करने के लिए माननीय आनंद के प्रयासों की सराहना की है और समाज के आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों से प्रतिभाशाली छात्रों को ट्रैक करने और उन्हें ट्रेनिंग प्रदान करके उनके कौशल को प्रोत्साहित करने के लिए भी आनंद के प्रयासों की सराहना करते हुए नज़र आये।

"उनके द्वारा किया गया यह नेक काम, दूसरों के अनुकरण के योग्य है,"उन्होंने कहा।

फिल्म में आनंद कुमार (ऋतिक) की जीवनी से रूबरू करवाया गया है। एक भारतीय गणितज्ञ की यात्रा जो एक टॉप कोचिंग सेंटर में अमीर बच्चों को पढ़ाने से लेकर गरीब बच्चों को पढ़ाने के लिए खुद एक इंस्टिट्यूशन की शुरुआत करते है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें