कर्ज में डूबी रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्च को महाराष्ट्र सरकार से मिला 7,000 करोड़ रुपये का ठेका

कंपनी की इस सूचना के बाद रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर के शेयरों में बुधवार को भारी उछाल दर्ज किया गया।

SHARE

कर्ज में डूबी अनिल अंबानी की रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्च को महाराष्ट्र सरकार की ओर से वर्सोवा-बांद्रा सी लिंक का 7,000 करोड़ रुपये का एक ठेका मिला है। कंपनी की इस सूचना के बाद रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर के शेयरों में बुधवार को भारी उछाल दर्ज किया गया। कंपनी के शेयर BSE पर 17.44 फीसद उछलकर 60.95 रुपये पर बंद हुए। कंपनी के अनुसार सी लिंक की लंबाई 17.17 किलोमीटर होगी और यह बांद्रा-वर्ली सी लिंक के मुकाबले तीन गुना होगी।


कंपनी ने सूचना में कहा कि ठेके की शर्तों के मुताबिक 24 जून 2019 की निर्धारित तिथि से 60 महीने के भीतर वह परियोजना पूरा कर देगी।सी लिंक बनने से यात्रियों को दोनों स्थानों के बीच की दूरी तय करने में 10 मिनट लगेंगे, जबकि अभी इसमें 90 मिनट से अधिक लगता है।रेटिंग एजेंसी इंडिया रेटिंग्स ने पिछले सप्ताह रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर की लॉन्ग-टर्म इश्युअर रेटिंग को घटा कर डी-इश्युअर नॉट कोऑपरेटिंग कर दिया था।

31 मार्च, 2019 में समाप्त तिमाही के दौरान रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर ने कंसॉलिडेटेड बेसिस पर 3,031 करोड़ रुपए का शुद्ध घाटा दर्ज किया था, जबकि एक साल पहले समान तिमाही के दौरान कंपनी को 133.66 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें