बीएमसी अधिकारियों ने जनता के बचाए 1600 करोड़

 Pali Hill
बीएमसी अधिकारियों ने जनता के बचाए 1600 करोड़

मुंबई - बीएमसी के दो अधिकारियों ने बीएमसी के 1600 करोड़ रुपये बचाए। जो मुंबईकर अपने टैक्स से देते हैं। इन दोनों अधिकारियों को बीएमसी आयुक्त अजॉय मेहता ने प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया है। ये दोनो अधिकारी बीएमसी की विकास योजना विभाग में कार्यरत है। इन दोनों अधिकारियों के नाम डेनियल कांबले और एस.वी.आर्विकर है। इन दोनों के अथक प्रयत्नों के कारण बीएमसी ने जेवीपीडी से 14 आरक्षित जगह बिना किसी पैसे के वापस ले लिये।

जेवीपीडी कॉपरेटिव हाउसिंग एसोसिएशन ने बीएमसी को इन अरक्षित जगहों के बाबात एक सेल्स नोटिस दिया था। आरक्षित जगह 1960 में म्हाडा ने जेवीपीडी को बेच दी थी। तत्कालीन महापौर श्रद्धा जाधव ने इस नोटिस को होल्ड पर रखा था। विपक्षी पार्टियों ने भी महापौर पर इस नोटिस को स्वीकार करने के लिए दबाब बनाया, लेकिन इन दोनों अधिकारियों ने अपने जीरह में कहा कि जेवीपीडी को ये आरक्षित जमीन बेचने का कोई हक नहीं है। क्योंकि असलीयत में इस जमीन का मालिकाना हक म्हाडा के पास है। इस तरह इन दोनों अधिकारियों ने आम जनता के 1600 करोड़ रुपये बचाये।

Loading Comments