बेटे को गोद में लिए , जिंदगी से जंग लड़ता सईद

 Mumbai
बेटे को गोद में लिए , जिंदगी से जंग लड़ता सईद

कहते है मुंबई में मदद के लिए उठे हाथ कभी वापस नहीं होते। मुंबई के वर्सोवा में रहनेवाले मोहम्मद सईद की पत्नी यास्मीन को स्ट्रोक के कारण लकवा मार गया है। सईद अपने ढाई साल के बेटे के साथ दिन-रात मुंबई की सड़कों पर ऑटो चलाता है। उनकी तीन महीने की बेटी की देखभाल उनके पड़ोसी कर रहे हैं।

यह भी पढ़े- मुंबई की सड़कों पर अब महिला रिक्शा ड्राईवर




दरअलस रईस की ये दर्दभरी कहानी एक सोशल मीडिया के जरिए लोगों के सामने आई है। बेटे की देखभाल करने के साथ साथ सईद रिक्शा चलाकर अपनी पत्नी के इलाज के पैस और बच्चों की देखरेख के लिए पैसे जमा कर रहा है। सईद की उम्र 26 साल है। सईद की हालत जानने के बाद फिल्म निर्देशक और पूर्व पत्रकार विनोद कापड़ी ने ऑटो चालक सईद का नंबर ट्वीट किया था। जिसके बाद सईद मदद के लिए कई लोगों ने अपने हाथ आगे किए है।


(मुंबई लाईव ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें)


Loading Comments