नहीं खुला एसी लोकल ट्रेन का दरवाजा, गार्ड भूल गया बटन दबाना

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, एसी लोकल ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्रियों का कहना है कि यह कोई पहली बार ऐसा नहीं हुआ है कि ट्रेन का दरवाजा ही न खुला हो, इससे पहले भी ऐसी घटना हो चुकी है।

SHARE

एक तरफ एसी लोकल तकनीकी कमियों के कारण आये दिन खराब होते रहती है, तो दूसरी तरफ अब वह मानवीय भूलों का भी शिकार हो रही है। बुधवार को विरार जाने वाली अंतिम एसी लोकल में उस समय अफरा तफरी मच गयी जब इस ट्रेन के दरवाजे नालासोपारा में नहीं खुले। इसके बाद यात्रियों को विरार उतरना पड़ा।दरअसल गार्ड दरवाजा खोलने का बटन दबाना ही भूल गया था।

पढ़ें: मुंबई पहुंची दुसरी एसी लोकल

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, एसी लोकल ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्रियों का कहना है कि यह कोई  पहली बार ऐसा नहीं हुआ है कि ट्रेन का दरवाजा ही न खुला हो,  इससे पहले भी ऐसी घटना हो चुकी है। नालासोपारा में शाम 07:05 बजे वाली एसी लोकल ट्रेन का दरवाजा नहीं खुलने पर यात्रीयों को विरार उतर कर वापस नालासोपारा आना पड़ा। इस घटना की जानकारी एक यात्री ने ट्वीट कर दी, तब जाकर रेलवे प्रशासन सक्रिय हुआ। गौरतलब है कि पश्चिम रेलवे में एसी लोकल के एक रेक से 12 सर्विस रोजाना चलाई जाती हैं।

पढ़ें: वेस्टर्न रेलवे में जल्द दौड़ेगी दूसरी एसी लोकल ट्रेन

मुंबई में चल रही पहली एसी लोकल का यह हाल है, जबकि अब दूसरी लोकल भी आ गयी है और इसका अभी ट्रायल चल रहा है। आशा है कि नयी वाली एसी लोकल ट्रेन में कोई तकनीकी खामियां देखने को न मिले। रेलवे के अनुसार मानसून तक दूसरी एसी लोकल ट्रेन का परिचालन हो सकता है। दोनों एसी लोकल ट्रेन चलने के बाद ही शनिवार और रविवार को भी एसी लोकल की सेवाएंचलाएं जाने का निर्णय रेलवे ने लिया है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें