मुंबईत में 499 इमारतें खतरनाक, बीएमसी ने जारी की सूची

इसके अलावा 174 इमारत ऐसी हैं जिनमें रहने वाले लोगों ने बीएमसी की कार्रवाई के खिलाफ कोर्ट से स्थगन का आदेश प्राप्त कर लिया है।

SHARE

मुंबई में हर साल बारिश के कारण इमारतें या फिर दीवार गिरने की घटना बढ़ रही है जिसकी चपेट में आकर कई लोगों की मौतें भी होती हैं। इसे देखते हुए बीएमसी भी हर साल खतरनाक हो चुके इमारतों की सूची बनाती है। इस बार भी बीएमसी ने खतरनाक इमारतों की सूची बनाई है, इस सूची में 499 इमारतों को शामिल किया गया है।  

इस तरह से रह रहे हैं लोग
इन खतरनाक इमारतों में मात्र 68 इमारतों को ही खाली कराया गया है। साथ ही 390 ऐसी खतरनाक इमारतें हैं जिसमें लोग रह रहे हैं। वैसे तो खतरनाक हो चुकीं इन इमारतों को गिरा देना चाहिए था लेकिन ऐसा नहीं किया गया। 54 खतरनाक इमारतों को तो खाली करवा लिया गया है लेकिन इन्हें तोड़ने के लिए कोर्ट से अभी तक मंजूरी नहीं मिली है।

इसके अलावा 174 इमारत ऐसी हैं जिनमें रहने वाले लोगों ने बीएमसी की कार्रवाई के खिलाफ कोर्ट से स्थगन का आदेश प्राप्त कर लिया है। जबकि 65 इमारतें ऐसी हैं जिनके बिजली और पानी के कनेक्शन काट दिए गये हैं बावजूद इसके लोग उसमें रह रहे हैं।

आखिर क्यों नहीं खाली करते हैं घर?
लोग अपने घरों को आखिर क्यों नहीं खाली करते हैं। क्यों वे इस तरह से खतरनाक हो चुकी इमारतों में रहने की जिद करते हैं। इसका कारण यह है कि लोग जहां रहते हैं वहां से इन्हें दूसरी जगह रहने के लिए भेजा जाता है। लेकिन जहां इन्हें भेजा जाता है वहां की जमीन की कीमत पुराने जगह वाली जमीन की कीमत से कफी कम होती है। इसके अलावा जहां इन्हें भेजा जाता है वहां जाने वाले लोगों के मन में काफी अनिश्चितिता भरी होती है। ये भाव न्यायिक मामलों के कारण, घर के विवाद के कारण, बिल्डर द्वारा धोखाधड़ी और ट्रांजिट कैम्प जैसे कई कारण होते हैं।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें