सफाई कर्मचारियों पर बेरोजगारी का खतरा, अनशन पर बैठे


  • सफाई कर्मचारियों पर बेरोजगारी का खतरा, अनशन पर बैठे
  • सफाई कर्मचारियों पर बेरोजगारी का खतरा, अनशन पर बैठे
SHARE

भांडुप - कचरा वाहतूक श्रमिक संघ ने शनिवार से पालिका के भांडुप में एस वॉर्ड कार्यालय के बाहर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू किया हैै। साफ-सफाई करने के लिए मैकेनिकल पॉवर स्वीपिंग तकनीक के इस्तेमाल से करीब 500 सफाई कर्मचारियों पर बेरोजगार होने का खतरा मंडरा रहा है। सफाई कर्मचारी इसके लिए पालिका को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। भूख हड़ताल कर रहे सफाई कर्मचारियों ने आत्मदाह करने का संकेत भी दिया है।

श्रमिक संघ के सचिव विजय ने कहा कि न्याय मिलने तक अनशन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि सड़क पर सफाई करने वाले सफाई कामगारों के रोजगार पर विचार किए बिना और उन्हें बिना पूर्व सूचना दिए काम से हटाया जा रहा है, जो कि कोर्ट की अवमानना है। पालिका के इस फैसले के खिलाफ हम कोर्ट में लड़ाई लड़ेगे। बता दें कि आधुनिक पद्धति की तकनीक से झाडू लगाने से एस विभाग (भांडुप), टी विभाग (मुलुंड), एन विभाग (घाटकोपर) और एम/पूर्व (गोवंडी) विभाग के करीब पांच सौ सफाई कर्मचारियों पर बेरोजगारी का संकट मंडरा रहा है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें