Advertisement

बीएमसी 1 अप्रैल से बढ़ा सकती है संपत्ति कर


बीएमसी 1 अप्रैल से बढ़ा सकती है संपत्ति कर
SHARES

कोरोना काल में बीएमसी द्वारा कम किए गए  संपत्ति कर में बीएमसी ( MUMBAI PROPERTY TAX) एक बार फिर बढोत्तरी कर सकती है। बीएमसी 1 अप्रैल से संपत्ति कर बढ़ा सकती है।संपत्ति कर में करीब 14 फीसदी की बढ़ोतरी की उम्मीद है। इसलिए वित्तीय वर्ष 2022-23 में संपत्ति कर का भार मुंबईवासियों पर पड़ेगा।

देश में वस्तु एवं सेवा कर लागू होने के बाद नगर पालिका की आय का मुख्य स्रोत समाप्त कर दिया गया। इसलिए, संपत्ति कर BMC के लिए आय का एक प्रमुख स्रोत बन गया। हालांकि, कोरोना का पहला मामला मार्च 2020 में मुंबई में मिला था और उसके बाद से कोरोना का संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है. इसलिए तालाबंदी और उसके बाद सख्त प्रतिबंध लगाए गए। नतीजतन, कई लोगों की नौकरी चली गई। कारोबार भी प्रभावित हुआ। इसलिए, संपत्ति कर में वृद्धि नहीं की गई थी।

हालांकी अब कोरोना के मामलो में कमी आने के बाद बीएमसी फिर से संपत्ति कर बढ़ाने पर विचार कर रही है।इसलिए प्रशासन एक अप्रैल से नए कर ढांचे के तहत संपत्ति कर की वसूली करने की योजना बना रहा है। नगर आयुक्त ने वित्तीय वर्ष 2022-23 का बजट पेश करते हुए संपत्ति कर में बढ़ोतरी के संकेत दिए।

इस बीच  कोरोना काल में मदद करने वाले होटल व्यवसायियों को दी गई संपत्ति कर में छूट, 500 वर्ग फुट तक के फ्लैटों में रहने वाले नागरिकों को संपत्ति कर में छूट से नगर पालिका की आय प्रभावित हुई है।

यह भी पढ़ेफोटो गैलरी - कोरोना के कहर के बाद कैसा रहा मुंबईकरो के लिए पहला 'संडे स्ट्रीट'!

Read this story in मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें