रास्ते के साफ सफाई के लिए 4 करोड़ का कांट्रेक्ट, कानूनी आवेदन प्रक्रिया को किया नजरअंदाज

 BMC
रास्ते के साफ सफाई के लिए 4 करोड़ का कांट्रेक्ट, कानूनी आवेदन प्रक्रिया को किया नजरअंदाज

लाखों मुंबईकरो द्वारा इस्टर्न फ्री वे और एससीएलआर( सांताक्रूज-चेंबूर लिंक रोड) का इस्तेमाल किया जाता है। इस दोनों रास्तों की साफ सफाई के लिए बीएमसी 4 करोड़ रुपये खर्च करने जा रही है। जिसके लिए केआरएम हॉस्पिटॅलिटी सर्व्हिसेस एंड बिल्डकोन नाम की कंपनी को यह ठेका दिया जा रहा है। इस रास्ते की साफ सफाई के लिए सप्ताह के दो दिन मशीन का इस्तेमाल किया जाएगा, तो वही बाकी दिन हाथ से इसकी साफ सफाई की जाएगी। लेकिन अब इस प्रस्ताव पर भी भ्रष्टाचार के बादल घिरते दिख रहे है।इस्टर्न फ्री वे और एससीएलआर( सांताक्रूज-चेंबूर लिंक रोड) से दोनों ही रोड एमएमआरडीए की ओर से बनाए गये थे। हालांकी अभी तक एमएमआरडीए ने इन रास्तो को बीएमसी को स्थांनातरित नहीं किया है। बावजूद इसके इन रास्तो की साफ सफाई बीएमसी की ओर से की जा रही है।


इसके पहले दिए गया कांट्रेक्ट 17 मई 2017 को समाप्त हो गया था। जिसे देखते हुए इसकी देखभाल करने के लिए फिर से एक बार इस रास्ते की साफ सफाई के लिए ठेके निकाले गए। दो कंपनियों में से केआरएम हॉस्पिटॅलिटी सर्व्हिसेस एंड बिल्डकोन को इन रास्तो के साफ सफाई का ठेका 5 साल के लिए दिया गया है।
क्या है आवेदन प्रक्रिया?बीएमसी के नियमानुसार अगर किसी भी प्रस्ताव के लिए एक या दो आवेदन आते है तो फिर से आवेदन मंगाए जाते है। किसी भी प्रस्ताव के लिए कम से कम 3 आवेदन जरुरी होते है। लेकिन इस प्रस्ताव के लिए सिर्फ दो ही प्रस्ताव आए थे। जिसमें से एक को चूना गया।

सोलिड वेस्ट विभाग के प्रमुख अभियंता सिराज अन्सारी का कहना है की इस कार्य के लिए 18 मई 2017 के पहले ठेकेदार की नियुक्ति करना अनिवार्य था, इसलिए इसे इतनी जल्दी अंजाम दिया गया।

डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 


Loading Comments