प्रॉपर्टी टैक्स नहीं जमा करने वालों पर बीएमसी की कार्रवाई, शामिल हैं बड़े बड़े नाम

आपको बता दें कि दो साल पहले ओक्ट्रॉय समाप्त किये जाने के बाद बीएमसी के आय का मुख्य साधन अब प्रॉपर्टी टैक्स ही रह गया है।

SHARE

प्रॉपर्टी टैक्स न भरने वालों पर बीएमसी ने कार्रवाई करने का निर्णय लिया है। इस कार्रवाई के अंतर्गत प्रॉपर्टी टैक्स न भरने वाले 25 लोगों की प्रॉपर्टी जब्त करने और 25 प्रॉपटियों के पानी के कनेक्शन काटने का आदेश बीएमसी जल्द ही देगी।

नियम के मुताबिक 90 दिन के अंदर प्रॉपर्टी टैक्स भरना अनिवार्य होता है, ऐसा नहीं करने पर 21 दिनों की अंतिम नोटिस दी जाती है। इतने पर भी टैक्स नहीं भरने के बाद बीएमसी के समाने कार्रवाई करने के सिवाय कोई चारा नहीं रहता।

आपको बता दें कि दो साल पहले ओक्ट्रॉय समाप्त किये जाने के बाद बीएमसी के आय का मुख्य साधन अब प्रॉपर्टी टैक्स ही रह गया है। साल 2017-18 वित्तीय वर्ष में बीएमसी को प्रॉपर्टी से 5132 करोड़ रुपए टैक्स के रूप में मिले थे, लेकिन साल 2018-19 वित्तीय वर्ष में टैक्स जमा में 2 हजार करोड़ रुपए की गिरावट आई, जिसमें 3495 करोड़ रुपए प्रॉपर्टी टैक्स के रूप में जमा हुए।

टैक्स एंड कलेक्शन विभाग के मुताबिक इस बार बड़ी बड़ी कंपनियों ने अपने प्रॉपर्टी टैक्स जमा नहीं किये हैं। इस सूची में भारत टिम्बर कॉर्पोरेशन, रॉयल पाल्म्स, नेशनल स्पोर्ट्स क्लब, अमीर पार्क्स अम्युजमेंट प्रा. लि., सनशाईन बिल्डर्स, एचडीआईएल, बॉम्बे डाइंग कंपनी, विधी रिएल्टर्स, वसुंधरा डेवलपर्स, सनशाईन हाऊस किपींग इन्फ्रा, रघुलीला मेघा मॉल, कांती डेव्हलपर्स जैसे नाम शामिल हैं।

संबंधित विषय