भारत में TikTok हुआ बैन

हालांकि, जिन लोगों ने पहले ही TikTok ऐप को डाउनलोड कर रखा है, वह अपने स्मार्टफोन पर इसका इस्तेमाल कर पाएंगे।

SHARE

भारत में पॉप्युलर विडियो मेकिंग ऐप टिक टॉक (TikTok) को बैन कर दिया गया है। इस ऐप पर आरोप लगा था कि यह ऐप सॉफ्ट पोर्नोग्राफी को बढ़ावा देता है जिसका असर बच्चों पर भी पड़ता है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सरकार ने गूगल और एप्पल को आदेश दिया कि वे अपने प्ले स्टोर से TikTok को हटा लें। इस आदेश के बाद गूगल ने अपने प्ले स्टोर से TikTok को हटा दिया जबकि एप्पल ने अभी तक ऐसा नहीं किया है। अब यूजर्स इस ऐप को प्लेस्टोर से डाउनलोड नहीं कर पाएंगे। हालांकि, जिन लोगों ने पहले ही TikTok ऐप को डाउनलोड कर रखा है, वह अपने स्मार्टफोन पर इसका इस्तेमाल कर पाएंगे।

आपको बता दें कि सबसे पहले मद्रास हाईकोर्ट ने इस ऐप के खिलाफ याचिका दाखिल कर इस पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गयी थी। याचिका पर सुनवाई करने के बाद मद्रास हाईकोर्ट ने इस ऐप को बैन कर दिया था, जिसके बाद मद्रास हाईकोर्ट के इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गयी, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने भी मद्रास हाई कोर्ट के टिकटॉक एप पर प्रतिबंध लगाने के आदेश पर रोक लगाने से इनकार कर दिया।

अब मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स ऐंड इंफॉर्मेशन टेक्नॉलजी का ऑर्डर इस ऐप के और डाउनलोड्स को रोकने में मदद करेगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सूचना व प्रसारण मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक, 'हाई कोर्ट ने सरकार से TikTok ऐप्लीकेशन के डाउनलोड्स को रोकने का आदेश दिया है। मिनिस्ट्री की तरफ से गूगल (Google) और एप्पल (Apple) को पत्र लिखकर अपने प्ले स्टोर से इस ऐप को हटाने को कहा गया है।' हालांकि, एप्पल के ऐप स्टोर पर यह ऐप अभी तक अवेलेबल है, लेकिन गूगल ने तत्काल इस ऐप को प्लेस्टोर से हटा दिया है।  

गौरतलब है कि टिक टॉक (TikTok)को चीन की कंपनी बिट्डांस टेक्नोलॉजी (Bytedance Technology) संचालित करती है। भारत टिकटॉक का बहुत बड़ा  बाजार है, इस बैन के बाद कंपनी के बिजनस पर इसका काफी असर पड़ेगा। एक आंकड़े के अनुसार पिछले साल TikTok ने मार्च तिमाही में 18.8 करोड़ नए यूजर जोड़े, जिसमें भारत की हिस्सेदारी 8.86 करोड़ यूजर्स की रही। पिछले साल के डेटा के मुताबिक, ऐप के 50 करोड़ यूजर बेस में भारत की हिस्सेदारी 39 फीसदी से ज्यादा है। TikTok दुनिया भर में तीसरा सबसे ज्यादा इंस्टॉल किया जाने वाला ऐप है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें