Advertisement

दहिसर गांवठाण और कांदरपाडा के नागरिको को 20 साल बाद मिली राहत , दहिसर नदी पर पुल बांधने का कम शुरु

पिछलें 20 सालों से स्थानिय लोग दहिसर नदी पर पुल बनाने की मांग कर रहे थे

दहिसर गांवठाण और कांदरपाडा के नागरिको को 20 साल बाद मिली राहत , दहिसर नदी पर पुल बांधने का कम शुरु
SHARES
Advertisement

दहिसर(dahisar) इलाके के गांवठाण और कांदरपाडा इलाके के नागरिको को पिछलें 20 सालों से तकलीफों का सामना करना पड़ता था।  पिछलें 20 सालों से गांवठाणा(gaonthan) और कांदरपाड़ा(kandarpada) इलाके में रहनेवाले लोगों को अंतिम संस्कार करने के लिए दहिसर गांवठाण आना पड़ता था। लेकिन यह रास्ता काफी छोटा और सकरा था। जिसके कारण लोगों को आने जाने में काफी तकलीफ होती थी। किसी भी सामाजित कार्यक्रम पारिवारिक कार्यक्रम, शादी समारोह के लिए आने जानेवालो के लिए  रास्ता छोटा और सकरा होने के कारण काफी दिक्कतें आती थी।  इलाके के लोग पिछलें 20 सालों से  दहिसर नदी (dahisar river)को पार करने के लिए एक पुल (bridge) की मांग कर रहे थे।  हालांकी अब उनकी ये मांग पूरी हो गई है। 

प्रशासन ने दहिसर नदी पर ब्रिज बनाने का काम शुरु कर दिया है।  शिवसेना उपनेता और  म्हाडा सभापती राज्यमंत्री दर्जा विनोद घोसालकर(vinod ghasalkar) और स्थानिक नगरसेविका तेजस्वी घोसालकर (tejaswi ghosalkar) ने भी नागरिको के साथ प्रशासन के साथ लगातार इस कार्य के लिए पत्र व्यवहार किया। लोगों की मांग और म्हाडा सभापती विनोद घोसालकर और नगरसेविका तेजस्वी घोसालकर के लगातार पत्र व्यवहार के कारण अब दहिसर नदी पर ब्रिज बनाने का काम शुरु किया गया है। ब्रिज बनाने के कार्य पर करोड़ रुपये खर्च किये जाएंगे।

बुधवार को इस काम का पूर्व नगरसेवक व मुंबई बैंक संचालक अभिषेक घोसालकर(abhishek ghosalkar) के हाथों शुभारंभ हुआ। इस मौके पर उपविभाग प्रमुख भालचंद म्हात्रे, शाखाप्रमुख राजू इंदुरीकर, शाखा संघटक जोडी मेंन्डोंसा, दहिसर गांवठाण के जेष्ठ नागरिक रमाकांत पाटील, रमेश ठाकुर के साथ साथ स्थानिय रहिवाशी शिवसैनिक भी मौजूद थे। 

संबंधित विषय
Advertisement