मजा बनी सजा: समुद्र में नहाने गए थे सात, लौटे तीन


SHARE

बारिश के सीजन में पर्यटक बारिश का आनंद उठाने समुद्र के किनारे घूमने जाते हैं और प्रशासन द्वारा देने चेतावनी के बावजूद भी समुद्र में नहाते हैं। कभी-कभी इन चेतावनी को इग्नोर करना भारी पड़ जाता है। पालघर जिले के केलवे बीच पर भी सात किशोरों का समूह घूमने गया था। चेतावनी जारी होने के बावजूद सभी समुद्र में उतर गए, आखिर हुआ वही जिसका डर था। गए थे सात लेकिन वापस लौटे तीन। मरने वालों में तीन बच्चे नाबालिग हैं।


नहाते समय डूब गए 
मौसम विभाग द्वारा चेतावनी जारी करने के बाद भी लोग अनसुना कर देते हैं। मौसम विभाग ने पिछले एक हफ्ते से यह चेतावनी जारी किया है कि मुंबई में कभी भी जोरदार बारिश हो सकती है लोग समुद्र के किनारे जाएं। लेकिन इसके बाद भी लोग समुद्र में बेखौफ होकर नहाते हैं। नालासोपारा के रहने वाले 7 मित्र भी बारिश में बीच का मजा लेने के लिए केलवे बीच गए थे। वहां सभी लोग नहाने लगे, उनमे से नहाते समय कुछ लोग गहरे पानी में चले गए, जिसमें से चार लोग डूब गए। जिन चार लोगों की डूबने से मौत हुई उनके नाम दिपेश दिलीप पेडणेकर (17), श्रीतेज नाईक (15), तुषार चिपटे (15) और दीपक परशुराम चालवाडी (20) जिसमे से दीपक का शव बरामद हुआ है, बाकियों के शवों की तलाश जारी है।

जबकि गौरव भिकाजी सावंत (17), संकेत सचिन जोगले (17) और देविदास रमेश जाधव (16) को बचा लिया गया है। मौसम विभाग ने तो चेतावनी जारी किया है लेकिन मुंबई लाइव भी लोगों से निवेदन करता है कि बारिश के सीजन में समुद्र के किनारे जाने से बचे।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें