बीएमसी अंग्रेजी माध्यम स्कूलों को बनाएगी पब्लिक स्कूल

 Mumbai
बीएमसी अंग्रेजी माध्यम स्कूलों को बनाएगी पब्लिक स्कूल

मुंबई- बीएमसी ने लगभग 114 पब्लिक स्कूल शुरू करने का फैसला लिया है। जिसमें 40 मराठी माध्यम स्कूलों को भी शामिल किया है जो पब्लिक स्कूलों में परिवर्तित हो जाएंगे। पिछलें कई दिनों से मराठी माध्यम में छात्रों के आकड़ो में गिरावट देखी गई है।

यह भी पढ़े- 172 बीएमसी स्कूलो में लगेगी सेनेटरी वेंडिंग मशीन

ये पब्लिक स्कूल अंग्रेजी माध्यम के स्कूल होंगे। 2007-08 से बीएमसी 504 बालवाड़ी स्कूल चल रही है। इन विद्यालयों में 13,277 छात्र पढ़ते थे, लेकिन उनमें से केवल 7,109 छात्रों ने बीएमसी स्कूलों में प्रवेश लिया। छात्रों की इसी गिरावट को देखते हुए बीएमसी ने पब्लिक स्कूल बनाने का निर्णय लिया है।

दरअसल आज के समय में ज्यादातर बच्चे अंग्रेजी माध्यमों के स्कूलों में जाना पसंद करते है। जिसे देखते हुए बीएमसी अब बच्चों को केजी के लिए प्रवेश देगी और छात्रों को पहली कक्षा में प्रवेश लेने के लिए फिर से दाखिला नहीं लेना होगा , बच्जीचे केजी से  10 वीं कक्षा एक ही स्कूल में पढ़ाई कर सकते है।

यह भी पढ़े-   बीएमसी स्कूल के स्टुडेंट को आरोग्य कार्ड

इस परियोजना में 44 मराठी माध्यम स्कूल , 34 हिंदी माध्यम स्कूल और 20 उर्दू माध्यमिक स्कूलो को शामिल किया गया है। हालांकि प्राथमिक विद्यालयों में ऊर्दू विद्यालयों में बड़ी मात्रा में छात्रों की संख्या होती है, फिर भी उनमें से ज्यादातर अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों में जाते हैं।

कोलाबा-गिरगांव तक एसा कोी भी स्कूल नहीं होगा ।बीएमसी एन तरह के पब्लिक स्कूलों को सिर्फ ताड़देव से दहिसर और मुलुंड तक ही चलाएंगी।

Loading Comments