गोरेगांव में बस्तियों का पुनर्विकास करेगा म्हाडा

म्हाडा के मुंबई बोर्ड के अध्यक्ष मधु चव्हाण ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि झुग्गी पुनर्विकास योजना से 2,500 अतिरिक्त घर बनेंगे, इसके अलावा 40,000 हाउसिंग स्टॉक रिवाम्प प्रोजेक्ट के माध्यम से बनेंगे।

SHARE

महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी (म्हाडा) ने 30,000 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से मोतीलाल नगर सुधार परियोजना शुरू करने के अलावा इसी जगह पर  पात्र झुग्गियों में रहने वाले लोगों को घर देने का भी फैसला किया है।  म्हाडा के मुंबई बोर्ड के अध्यक्ष मधु चव्हाण ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि झुग्गी पुनर्विकास योजना से 2,500 अतिरिक्त घर बनेंगे, इसके अलावा 40,000 हाउसिंग स्टॉक रिवाम्प प्रोजेक्ट के माध्यम से बनेंगे।

फ्रि प्रेस जर्नल में छपी खबर के अनुसार 
चव्हाण ने कहा कि उन्होंने पहले ही क्षेत्र में झुग्गी-झोपड़ी के लोगों की पात्रता सर्वेक्षण शुरू कर दिया है और पुनर्विकास की प्रक्रिया तुरंत शुरू की जाएगी। म्हाडा ने गोरेगांव के मोतीलाल नगर में 128 एकड़ में फैले पुनर्विकास परियोजना का प्रस्ताव दिया है, जिसमें 3,628 किरायेदारों के नए 1,100-1,200 वर्ग फुट के नए घरों में पुनर्वास शामिल है।

मूल किरायेदारों को मकान उपलब्ध कराने के अलावा आवास प्राधिकरण को एक अतिरिक्त आवास मिलेगा जिसे वह लॉटरी ड्रा में बेचेगा।

यह भी पढ़े- बीएमसी ने गड्ढों की शिकायत के लिए जारी किया ऐप!

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें

गोरेगांव में बस्तियों का पुनर्विकास करेगा म्हाडा
00:00
00:00