पुलिस के पास "घर' नहीं।

 Mumbai
पुलिस के पास "घर' नहीं।

लोगों की सुरक्षा में 24 घंटे तैनात रहनेवाले मुंबईपुलिस  के जवानों के लिए सरकार के पास घर नहीं है। जी हां, यह हम नहीं कह रहे है ये कह रहे है सरकारी आकड़े। राज्य की कुल संख्या 12 करोड़ है। साथ ही पुलिस के कुल जवानों की संख्या 1 लाख 99 हजार 939 है। इन आकड़ो के हिसाब से राज्य में 1 लाख लोगों के पिछें 168 पुलिस कर्मचारी है। पुलिसवालों की इतनी कम संख्या होने के बाद भी राज्य सरकार अभी तक पुलिस के कई जावानों को घर तक नहीं दिला सकी है।

पुलिसवालों के लिए घर बांधने के लिए महाराष्ट्र पुलिस गृहनिर्माण और कल्याण मंडल की स्थापना 1974 में की गई थी। लेकिन इसके बाद भी पुलिसवालों के लिए अभी तक सिर्फ 30 हजार घर ही बांधे गए है। 2016 में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने घाटकोपर में स्मार्ट टाऊनशिप बनाने की घोषणा की थी। दावा किया गया था इस टाउनशिप में पुलिसवालों के लिए 8 हजार घर बनेंगे। लेकिन अभी तक यहां पर कार्य शुरु नहीं हुआ है।


एक आरटीआई से मिली जानकारी के अनुसार मुंबई में पुलिस अधिकारियों की संख्या 4835 है। तो वही इन अधिकारियों के लिए उपलब्ध घरों की संख्या 2199 है। साथ ही पुलिस कर्मचारिय़ों की संख्या 39591 है। तो वही इसके लिए उपलब्ध घर 19442 है।

मुंबई लाइव ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करे
नीचे कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें

Loading Comments