Advertisement

पिछले 10 दिनों से वर्ली कोलीवाड़ा इलाके से कोरोना का कोई नया केस नहीं आया सामने

धारावी (dharavi) के बाद अब मुंबई के वर्ली कोलीवाड़ा और उससे सटे जीजामाता नगर से पिछले 10 दिनों से कोई नया कोरोना वायरस का मरीज नहीं मिला है।

पिछले 10 दिनों से वर्ली कोलीवाड़ा इलाके से कोरोना का कोई नया केस नहीं आया सामने
SHARES

कोरोना (covid19) के मद्देनजर मुंबई (Mumbai) से लगातार अच्छी खबर सामने आ रही है। धारावी (dharavi) के बाद अब मुंबई के वर्ली कोलीवाड़ा और उससे सटे जीजामाता नगर से पिछले 10 दिनों से कोई नया कोरोना वायरस का मरीज नहीं मिला है। प्रशासन और क्षेत्रवासियों के लिए बड़ी राहत की बात है।

मिली जानकारी के मुताबिक फिलहाल क्षेत्र में एक ही सक्रिय मरीज है। यह इलाका BMC के साउथ वार्ड में आता है। एक समय इस इलाके में सबसे ज्यादा मरीज थे। मुंबई में पहला कंटेन्मेंट जोन अप्रैल 2020 में वर्ली कोलीवाड़ा में ही स्थापित किया गया था, ताकि कोरोनो वायरस (coronavirus) रोगियों की संख्या को नियंत्रित किया जा सके।

स्थानीय अधिकारियों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 7 जून 2021 से वर्ली कोलीवाड़ा और जीजामाता नगर में कोई नया केस नहीं मिला है। इसके पहले  घनी आबादी वाले इस इलाके में अब तक 1,099 कोरोना संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। इनमें से 70 मरीजों की मौत हो चुकी है और 1,027 मरीज कोरोना सेे ठीक हो चुके हैं।

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर पहली से ज्यादा घातक मानी जा रही है। मुंबई और महाराष्ट्र समेत देश के कई राज्यों में यह लहर चली है।  हालांकि दूसरी लहर कम हो रही थी, लेकिन इसने हमारी नाजुक स्वास्थ्य प्रणाली पर प्रकाश डाला।  तीसरी लहर के संबंध में प्रशासनिक स्तर पर व्यवस्था की जा रही है।

हालांकि BMC ने टीकाकरण अभियान चलाया है, लेकिन अपर्याप्त टीकाकरण के कारण इसे गति नहीं मिल पा रही है।  मुंबईकर अपने नंबर आने का इंतजार कर रहे हैं।

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें