गर्भवति महिलाएं भी कर सकती है रेलवे के दिव्यांग डब्बो में यात्रा

गर्भवती महिलाओं को रेलवे के अपंग डब्बो में बैठने की अनुमति दी है।

SHARE

रेलवे ट्रैक से टकराव, सिग्नल सिस्टम के बिगड़ने, ओवरहेड वायर क्रॉसिंग जैसे कई कारणों से अक्सर ट्रेनें बाधित होती हैं। इसके कारण ट्रेन स्टेशन पर यात्रियों की भारी भीड़ है इसके साथ ही यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। महिला यात्रियों को  खासकर काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।  हालांकी रेलवे ने अब महिला यात्रियों को होनेवाली तकलीफों को ध्यान में रखते हुए । गर्भवती महिलाओं को रेलवे के अपंग डब्बो में बैठने की अनुमति दी है।  

समस्याओं के बारे में बात 
महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे के बेटे अमित ठाकरे ने केंद्रीय रेलवे के महाप्रबंधक से मुलाकात कर  समस्याओं पर चर्चा की। इस समय, उन्होंने मांग की कि गर्भवती महिलाओं को ट्रेन से यात्रा करते समय विकलांग यात्रियों के साथ ट्रेन से यात्रा करने की अनुमति दी जानी चाहिए। अमित ठाकरे की मांग के बाद, सोमवार को रेलवे प्रशासन ने गर्भवती महिलाओं को विकलांगों के साथ यात्रा करने की अनुमति देने का फैसला किया।

सीसीटीवी पर्याप्त नहीं 
बैठक के दौरानअमित ठाकरे और मनसे नेता संदीप देशपांडे ने रेलवे के अधिकारियों से लोगों को होनेवाले समस्याओं के बारे में बताया।  साथ ही, अमित ठाकरे ने कहा था कि ट्रेन में महिला यात्री सुरक्षित नही है और सिर्फ सीसीटीवी के जरिए सुरक्षा के पुख्ता इतजाम नहीं किये जा सकते। सुरक्षा गार्डों की संख्या बढ़ाने की जरूरत है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें